जेएनएन, डेराबस्सी/यमुनानगर। शादी की सारी तैयारियां हो गई थी। कार्ड बंट गए थे और मंडप भी सज गया था। घर पर रिश्‍तेदार आ गए थे और अगले दिन बरात आने का इंतजार था। तभी पता चला कि दूल्‍हा गायब हो गया है। दुल्‍हन और उसके परिवार पर मानो वज्रपात हो गया। खोजबीन करने पर पता चला कि दूल्‍हे को अपना एक दोस्‍त भा गया था और वह उसके साथ घर से फरार हो गया है। इसके बाद तो हंगामा हो गया। बरात हरियाणा के यमुनानगर के जगाधरी से डेराबस्‍सी त्रिवेदी कैंप आनी थी। वधू पक्ष ने वर पक्ष के लोगों के खिलाफ पुलिस में केस दर्ज कराया है। दूसरी अोर दूल्‍हे के परिवार ने उसकी गुमशुदगी का मामला दर्ज कराया है।

शादी मंगलवार 11 सितंबर को थी। लड़की वालों ने मुबारिकपुर पुलिस थाना में लड़के वालों की शिकायत दर्ज कराई है है तो दूल्‍हे के परिवार ने जगाधरी में उसकी गुमशुदगी की शिकायत दर्ज करवाई है। लड़की वाले मंगलवार को पुलिस के साथ जगाधरी पहुंचे, जहां काफी हंगामे के बाद लड़के वालों को समन देकर स्थानीय पुलिस लौट आई।

जानकारी के मुताबिक, त्रिवेदी कैंप के परिवार की एक लड़की का विवाह यमुनानगर के जगाधरी के रहने वाले युवक के साथ तय किया गया था। बारात 11 सितंबर को गांव में आनी थी और उसी दिन शगुन की रस्म भी थी। लड़की के पिता ने बताया कि बेटी का रिश्ता समेत रिंग सेरेमनी बीते साल 28 अप्रैल को हुई थी। इस बीच वे सभी रीति-रिवाज निभाते रहे। शादी के लिए कार्ड बंट चुके थे और घर में रिश्तेदार पहुंचे हुए हैं। बरात और शादी के लिए शामियाना लगाकर हलवाई भी मिठाइयां आदि बनाने में लग गए थे।इसी दौरान लड़के के परिवार से आए संदेश ने उनकी नींद हराम कर दी। खुशियों भरा माहौल गमगीन हो गया। दूल्‍हा पक्ष ने उसके गायब होने की बात बताई।

दूल्‍हा पक्ष ने जगाधरी वर्कशॉप स्थित पैलेस में रखी थी रिसेप्शन

दूल्‍हा पक्ष द्वारा बांटे गए कार्ड प्रोग्राम मुताबिक सोमवार 10 सितंबर को लेडीज संगीत व 11 तारीख को सुबह छ‍ह बजे बारात की रवानगी दर्ज थी। बारात को त्रिवेदी कैंप में आठ बजे पहुंचना था। इसके अलावा बुधवार 12 सितंबर को जगाधरी वर्कशॉप स्थित शिवम पैलेस में लड़के वालों ने रात की रिसेप्शन पार्टी भी रखी थी। लड़की के पिता ने बताया कि उनकी दो बेटियों में बड़ी बेटी का विवाह था।

पिता बोला : हैसियत से बढ़कर जुटाया है दहेज का सामान

लड़की के पिता ने बताया कि बेटी समेत महिला सदस्यों का घर में रोनाधोना चल रहा है। उन्होंने दहेज का भी काफी सामान जुटा रखा है। ऐन मौके पर दूल्हे के लापता होने से उन्हें मामला संदिग्ध जान पड़ता है। लड़की वालों को आर्थिक नुकसान समेत बदनामी ङोलनी पड़ी है। एएसपी हरमन हांस ने बताया कि लड़की परिवार के साथ दो पुलिसकर्मी यमुनानगर भेजे गए।

पंचायती स्तर पर हो रहा है मामला निपटाने का प्रयास

लड़की के रिश्तेदारों ने बताया कि यमुनानगर में काफी हंगामा भी हुआ, परंतु लड़के वालों के घर पर भी विवाह की तैयारियां चल रही थी। लड़के वालों ने उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई है। पंचायती लोग, बिचौलियों समेत पुलिस की हाजिरी में समन तामील कर लड़के वालों को मुबारिकपुर पुलिस चौकी तलब किया गया है।


जगाधरी में 25 वर्षीय इस युवक की शादी की तैयारियां धूमधाम से चल रही थी। रिश्तेदार भी घर पर पहुंचने शुरू हो गए थे। लेकिन, अचानक दूल्हे के गायब होने से परिजनों के होश उड़ गए। बताया जाता है कि पु‍लिस जांच में चौंकाने वाला खुलासा हुआ। दरअसल, युवक को अपने ही एक दोस्त से प्यार था। परिजनों के मुताबिक वही दोस्त उसे अपने साथ ले गया है।

इसके साथ ही समलैंगिकता को कानूनी दर्जा मिलने के बाद छोटे शहरों में भी इससे जुड़े मामले सामने आने लगे हैं। पुलिस के मुताबिक कांसापुर रोड निवासी युवक अपनी शादी से दो दिन पूर्व चचेरे भाई के साथ सामान लेने घर से जगाधरी आया था। दोनों सामान लेकर बस स्टैंड के पास पहुंचे। तभी दूल्‍हे के मोबाइल पर किसी का कॉल आया और उसने चचेरे भाई को वहीं रुकने को कहा व कहीं चला गया।

चचेरा भाई काफी देर तक इंतजार करता रहा, लेकिन वह नहीं आया। इसके बाद उसका मोबाइल फोन भी बंद हो गया। भाई ने अन्‍य परिजनों को इस बारे में जानकारी दी। इसके बाद परिजनों ने उसकी काफी तलाश की, लेकिन कोई पता नहीं लगा। इस बीच परिजनों को पता लगा कि वह अपने एक दोस्त के साथ प्यार करता है। आशंका है कि दोस्त ही उसे बहला-फुसलाकर ले गया है।

परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने भादंसं की धारा 346 के तहत (गलत तरीके से कैद में करना) केस दर्ज किया है। सिटी एसएचओ नरेंद्र राणा ने बताया कि मामला समलैंगिता का है। फिर भी हम सभी पहलुओं पर जांच कर रहे हैं। मामले में केस दर्ज कर लिया गया है।

 

Posted By: Sunil Kumar Jha