जेएनएन, चंडीगढ़। पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट व चंडीगढ़ जिला अदालत को बम से उड़ाने की धमकी भरे पत्र के बाद पुलिस बल सक्रिय हो गया है। दोनों स्थानों पर बड़ी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच गया है। आसपास के इलाकों में अलर्ट जारी कर दिया गया है। हाई कोर्ट में हर आने-जाने वाले पर पैनी निगाह रखी रही है।

धमकी भरा पत्र 23 अक्टूबर को जिला बार एसोसिएशन प्रधान एनके नंदा को मिला था। पत्र के अनुसार में 29 अक्टूूबर को हाई कोर्ट व जिला कोर्ट को बम से उड़ाने की धमकी दी गई थी। धमकी भरे पत्र को गंभीरता से लेते हुए चंडीगढ़ पुलिस ने दोनों जगह हाई अलर्ट कर दिया है। कोर्ट परिसर में बिना पहचान पत्र जाने पर रोक लगा दी गई है। पुलिस की अलग-अलग यूनिट ऑपरेशन सेल, बम स्क्वायड, डॉग स्क्वायड टीम मौजूद लोगों की चेकिंग और सामानों की चेकिंग में जुटी है।

आला अधिकारियों का कहना है कि धमकी भरे पत्र को किसी भी तरह हल्के में नहीं लिया जा रहा है। दूसरी ओर चंडीगढ़ के रेलवे स्टेशन सेक्टर 17 बस स्टैंड सेक्टर 43 बस स्टैंड मार्केट एरिया सहित सभी सार्वजनिक स्थानों पर स्थानीय थाना पुलिस और बीट पुलिस को अलर्ट किया गया है।

स्पीड पोस्ट से आए पत्र में मोहाली का पता

बार एसोसिएशन प्रधान के पास स्पीड पोस्ट से पहुंचे पत्र में मोहाली के गांव हसनपुर निवासी आदिल खान का नाम लिखा गया है। पत्र में आदिल खान को जैश-ए-मोहम्मद आर्मी का कमाडेंट बताया गया है। इसके साथ ही लिखा है कि उनका काम जुल्म के खिलाफ जिहाद करना है जो उनकी कौम पर बेवजह हो रहा है। लिखा है कि 29 अक्टूबर को दोपहर 12 बजकर 18 मिनट पर जिला अदालत चंडीगढ़ और इसी दिन 12 बजकर 28 मिनट पर पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट में बड़ा धमाका होगा। उनका मकसद सल्तनत की आंखें खोलना है। इसके साथ यह पैगाम पहुंचाना है कि अगर कश्मीर में लोगों पर जुल्म बंद न हुए तो मरते दम तक जिहाद का रास्ता अपनाते रहेंगे। इसके साथ ही कहा है कि 9/11 को हुए हमले को आप लोग अच्छी तरह से जानते होंगे। इस बार उसे बड़ा धमाका होगा।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!