जागरण संवाददाता, चंडीगढ़। पीजीआइ चंडीगढ़ कोरोना संक्रमण की वजह से रक्त की कमी हो गुई है। ऐसे में पीजीआइ में भर्ती मरीजों को समय पर ब्लड नहीं मिल पा रहा है। पीजीआइ के ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन विभाग ने लोगों को रक्तदान की अपील की है। बढ़ते संक्रमित मामलों के बीच अस्पताल में आइसीयू, थैलेसीमिया, कैंसर मरीजों, हेमोफिलिया और गर्भवती महिलाओं के इलाज में इस्तेमाल में आने वाले ब्लड यूनिट की कमी की वजह से पीजीआइ ने लोगाें से रक्तदान के लिए अपील की है। पीजीआइ में रोजाना इन दिनों इलाज के दौरान 250 से 300 ब्लड यूनिट का इस्तेमाल किया जा रहा है। जिसकी वजह से ब्लड बैंक में यूनिट की कमी महसूस हो रही है।

ऐसे में पीजीआइ ने 18 से 60 साल की उम्र के लोगों से रक्तदान के लिए अपील की है। ताकि जरुरतमंद मरीजों के इलाज में ब्लड यूनिट का इस्तेमाल किया जा सके। पीजीआइ की ओर से यह घोषणा की गई है कि जो भी इच्छुक व्यक्ति रक्तदान करने के लिए आगे आना चाहता है, वो पीजीआइ के एडवांस ट्रामा सेंटर के ब्लड डोनेशन सेंटर रूम नंबर-107 में  सोमवार से शुक्रवार सुबह नौ से शाम साढ़े सात बजे तक आकर रक्तदान कर सकता है। शनिवार, रविवार और अन्य गजेटेड हॉलीडे पर व्यक्ति ब्लड डोनेशन सेंटर सुबह नौ से शाम पांच बजे के बीच रक्तदान के लिए आ सकता है।

पीजीआइ समेत शहर के कई सरकारी अस्पताल जैसे जीएमसीएच-32 और जीएमएसएच-16 के ब्लड बैंक में ब्लड यूनिट की कमी हो रही है। इसका मुख्य कारण मरीजों के इलाज में तेजी से खून की कमी सामने आना। जिसकी वजह से ब्लड यूनिट के लिए अब पीजीआइ समेत कई चिकित्सा संस्थान ने विशेष रक्तदान शिविर लगाकर इस कमी को पूरा करने का फैसला किया है।

पीजीआइ निदेशक प्रो. सुरजीत सिंह ने कहा कि जो लोग रक्तदान करना चाहते हैं, उनके लिए पीजीआइ ने विशेष इंतजाम किए हैं। ब्लड डोनेशन सेंटर में बिना किसी दिक्कत के लोग सीधा आकर रक्तदान कर सकते हैं।

Edited By: Ankesh Thakur