चंडीगढ़, जेएनएन। कमिश्नर केके यादव से शहर के गांव की समस्याओं पर मिलने आए भाजपा के नेताओं ने मंगलवार दोपहर हंगामा कर दिया। आरोप है कि कमिश्नर कार्यालय के बाहर अपनी बारी का इंतजार कर रहे एक भाजपा के नेता ने कमिश्नर के पीए को थप्पड़ मार दिया। इसके बाद भाजपा के नेता कमिश्नर के खिलाफ कमरे के बाहर ही धरने पर बैठ गए। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और कमरे से बाहर भाजपा नेताओं को हटाया। पीए जतिन सैनी ने हुई हाथापाई की शिकायत लिखित में दे दी है।

कमिश्नर केके यादव ने इस बारे में एसएसपी से भी बात की है। भाजपा के नेता उपाध्यक्ष रामवीर भट्टी के नेतृत्व में नगर निगम की पार्किंग में धरने पर बैठ गए हैं। भाजपा के नेताओं का आरोप है कि जिस समय वह कमिश्नर को मिलने आए उन्हें कमरे के बाहर ही बिठा दिया गया जबकि कांग्रेस के एक पूर्व मेयर सीधा कमिश्नर को मिलने के लिए चले गए और उन्हें बाहर ही बिठा दिया गया, जबकि वह गांव की समस्या को लेकर कमिश्नर से मिलने आए थे। इस दौरान जब पीए जतिन कमिश्नर को मैसेज देने के बाद बाहर आए तो उसकी भाजपा नेताओं के साथ बहस हो गई।

मालूम हो कि इस समय गांव की समस्याएं लगातार बढ़ती जा रही हैं और जब से गांव नगर निगम में शामिल हुए हैं, तब से सभी विकास के काम रुक गए हैं। नगर निगम की पार्किंग में भाजपा के नेता कमिश्नर के खिलाफ नारेबाजी भी कर रहे हैं। कमिश्नर केके यादव का कहना है कि जो भाजपा के नेता मिलने आए थे उन्होंने इससे पहले मिलने का समय नहीं लिया था। जबकि कांग्रेस के पूर्व मेयर हरफूल कल्याण ने मिलने का समय पहले ही लिया हुआ था। ऐसे में वह हरफूल कल्याण से बात कर रहे थे और भाजपा के नेता बिना समय लिए ही पहुंच गए।

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!