राज्य ब्यूरो. चंडीगढ़। Punjab Vidhan Sabha Chunav 2022: भारतीय जनता पार्टी, शिरोमणि अकाली दल (संयुक्त) और पंजाब लोक कांग्रेस पार्टी (पीएलसीपी) का गठजोड़ पंजाब के चुनाव लिए अलग-अलग तौर पर चुनावी घोषणा पत्र जारी नहीं करेगा, बल्कि तीनों पार्टियां संयुक्त घोषणापत्र बनाएंगी। तालमेल कमेटी नामांकन का काम पूरा होने के तुरंत बाद घोषणापत्र जारी कर देगी। तीनों पार्टियों ने अपना-अपना ड्राफ्ट बना लिया है और जल्द ही एक साझा घोषणापत्र तैयार करने पर बैठक होगी।

भारतीय जनता पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने इसकी पुष्टि की है कि छह से सात वर्गो पर ही फोकस किया जाएगा। गठजोड़ पार्टियां ऐसा कोई वादा नहीं करेंगी जो पूरा न किया जा सके। केवल उन वर्गों पर ही फोकस किया जाएगा, जिन पर ध्यान देने की अति आवश्यकता है। राष्ट्रीय सुरक्षा मुद्दा सबसे बड़ा है। पंजाब चूंकि सीमांत राज्य है, इसलिए सीमा पार से होने वाली गतिविधियां न केवल पंजाब की आतंरिक सुरक्षा के लिए खरतनाक हैं, बल्कि देश की सुरक्षा पर भी इसका असर रहता है।

तीन कृषि काूननों को लेकर चले आंदोलन के कारण बेशक किसानी वर्ग में भाजपा के प्रति नाराजगी का भाव रहा है, लेकिन केंद्र सरकार ने किसानों की आय बढ़ाने और पंजाब को गेहूं और धान के फसली चक्र से निकालकर वैकल्पिक खेती की ओर ले जाने पर काम शुरू किया है। भाजपा का कहना है कि हमारी सरकार बनने पर राज्य सरकार उन्हें क्या सहयोग देगी इसको लेकर एक बड़ा रोड मैप हमारे घोषणापत्र में दिखाई देगा।

इसके अलावा पंजाब से युवाओं का विदेशें में पलायन हमारे लिए बड़ा मुद्दा है। उन्हें नौकरी केअलावा अपने पैरों पर खड़ा करने के लिए स्किल डेवलपमेंट के कार्यक्रम चलाए जाएंगे। युवाओं को रोजगार मुहैया करवाने में इंडस्ट्री कैसे सहयोग कर सकती है और ज्यादा से ज्यादा रोजगार हमारे युवाओं को मिले, इसके लिए विशेष कार्य योजना तैयार करने की तैयारी की जा रही है।

शिक्षा और स्वास्थ्य पर फोकस

शिक्षा और स्वास्थ्य जैसे बुनियादी अधिकारों पर भी ध्यान दिया जाएगा और इसका इन्फ्रास्ट्रक्चर मजबूत किया जाएगा। इसके लिए कई केंद्रीय योजनाएं हैं, जिनका पूर्व सरकारें इस्तेमाल नहीं कर पाई हैं। घोषणापत्र में इन दोनों सेक्टरों पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। भाजपा नेता का कहना है कि छोटे दुकानदार, व्यापारी हमारी पार्टी की रीढ़ की हड्डी हैं। उनसे मिलकर हम उनकी समस्याएं समझने का प्रयास कर रहे हैं, ताकि उनके हल निकाले जाएं। व्यापारी वर्ग भी हमारे घोषणापत्र का विशेष हिस्सा रहेगा। भाजपा नेता ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ओर से चलाई जा रही योजनाओं को हम अपने घोषणापत्र का हिस्सा बनाएंगे। उनके सहयोग से कृषि, इंडस्ट्री आदि सेक्टर में बड़ी कार्य योजनाएं चलाएंगे।

Edited By: Kamlesh Bhatt