चंडीगढ़ [सुमेश ठाकुर]। सड़क पर बढ़ रहे वाहन प्रदूषण का अहम कारण हैं, इसलिए ऐसे कारणों के प्रति लोगों को जागरूक कर प्रदूषण रहित यातायात के लिए उपयुक्त विकल्पों पर जोर देना आज हर किसी के लिए जरूरी है। शहर के सेक्टर-41 निवासी राजीव कुमार लोगों को यही संदेश दे रहे हैं। राजीव कुमार शहर के लोगों को ही नहीं, बल्कि दूसरे राज्यों के लोगों को भी जागरूक करने में जुटे हैं। वह बीते 24 वषों से लोगों को पेट्रोल व डीजल से रफ्तार भरने वाली गाड़ियों का कम इस्तेमाल करने का संदेश देने का प्रयास कर रहे हैं। उनकी मंशा साइकिलिंग को बढ़ावा देने की है।

खास बात यह है कि वह अब तक करीब छह राज्यों का साइकिल से भ्रमण कर चुके हैं। राजीव कुमार साइकिल के अलावा किसी अन्य वाहन का प्रयोग नहीं करते। उनकी इस मुहिम से ज्यादा से ज्यादा लोग जुड़ें, इसके लिए उन्होंने खुद ही अपनी साइकिल विशेष तौर पर डिजाइन की है। अभी तक राजीव 13 साइकिल डिजाइन कर चुके हैं। उनका यह प्रयास लोगों को आकर्षित करता है।

अपनी 13वीं साइकिल पर सवार होकर वह इन दिनों चंडीगढ़ से मुंबई के लिए निकले हैं। राजीव की इस साइकिल की ऊंचाई 8.6 फीट है। उनका दावा है कि उसकी ऊंचाई 10.4 फीट तक हो सकती है। राजीव खुद डिजाइन की गई साइकिल पर चंडीगढ़ को भी प्रमोट करने के लिए विशेष तौर पर प्रयास करते रहे हैं। हर बार चंडीगढ़ के किसी एक स्थान का मॉडल बनाकर साइकिल के साथ लगाते हैं। उन्होंने अपनी 13वीं साइकिल के साथ भी ओपन हैंड का मॉडल लगाया है, ताकि लोगों को दूर से देखते ही पता चले कि यह व्यक्ति चंडीगढ़ का है।

दसवीं में की थी शुरुआत

राजीव ने बताया कि साइकिल चलाने का शौक उन्हें बचपन से ही है। उन्होंने बताया कि 10वीं में पढ़ते हुए उन्हें शौक जगा कि ऐसा काम करना है जिसे कोई दूसरा नहीं करता हो। वह साइकिल चलाकर पूरा देश घूमना चाहते थे। उसके लिए उन्होंने सबसे पहले एक वर्कशॉप खोली। वर्कशॉप में खुद ही साइकिल को डिजाइन करना शुरू किया। जब खुद की डिजाइन की गई साइकिल लेकर सड़क पर निकलते हैं तो उन्हें देखने के लिए सभी की निगाहें ठहर जाती हैं।

बकौल राजीव, हर कोई मुझसे मिलने के लिए उत्सुक दिखता है। उन्होंने बताया कि साइक्लिंग के सपने को पूरा करने के अलावा समाज के लिए कुछ करना चाहता हूं, इसलिए साइकिल पर चलते हुए मैं हर किसी को संदेश देता हूं कि गाड़ियों के बजाय साइकिल का ज्यादा इस्तेमाल करें। इसके इस्तेमाल से जहां इंसान की खुद की सेहत ठीक रहती है, वहीं पर्यावरण को भी सुरक्षित रखा जा सकता है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें  

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!