चंडीगढ़, [बलवान करिवाल]। Bharat Bandh: किसान संगठनों ने सोमवार 27 सितंबर को भारत बंद का एलान किया है। इसको देखते हुए लोगों के मन में दुविधा है। लोगों ने पहले से ही सोमवार के लिए रेल और बस से यात्रा का प्लान कर रखा है। लेकिन हम आपको इस खबर के जरिये गाइड करने का प्रयास करेंगे, जिससे आपको कहीं किसी वजह से परेशानी न झेलनी पड़े।

अगर आप सोमवार को रेल और बस के माध्यम से कहीं लंबी यात्रा करने जा रहे हैं तो यह आपको मुश्किल में डाल सकता है। बेशक आपकी टिकट पहले से बुक है तो भी सफर परेशानी का सबब बन सकता है। हालांकि अभी किसी भी राज्य परिवहन ने बसों की आवाजाही को रोकने की घोषणा नहीं की है। लेकिन अधिकारियों ने बातचीत में बताया कि वह बसें कभी बंद नहीं करते हैं लेकिन अगर कहीं रास्ते बंद हो जाते हैं तो इसे बंद करना मजबूरी हो जाता है। सोमवार को भी जहां तक बस जाएंगी भेजते रहेंगे। 

इन राज्यों से चंडीगढ़ की सीधी कनेक्टिविटी

चंडीगढ़ से पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, जम्मू एंड कश्मीर, राजस्थान जैसे राज्यों को सीधी बस सर्विस है। इन सभी राज्यों के लिए रोजाना सैकड़ों बस आती जाती हैं। हरियाणा रोडवेज पूछताछ केंद्र से मिली जानकारी अनुसार भारत बंद को लेकर उन्हें अभी किसी तरह के कोई आदेश नहीं मिले हैं। लेकिन अगर कहीं रास्ते बंद होते हैं तो वहां तक ही बस सर्विस रहेगी। इसी तरह से चंडीगढ़ ट्रांसपोर्ट अंडरटेकिंग के एक अधिकारी ने बताया कि भारत बंद पर पंजाब और हरियाणा राज्यों में मार्ग अवरूद्ध हो सकता है। इसको देखते हुए सोमवार को ही इस संबंध में जरूरी निर्णय लिए जाएंगे। लेकिन पब्लिक असुविधा न हो इसके लिए बसें चलाने की पूरी कोशिश होगी।

मुख्य मार्ग हो सकते हैं बंद

किसान संगठन कृषि कानूनों के खिलाफ आठ महीनों से प्रदर्शन कर रहे हैं। अब इन कानूनों को वापस लेने के लिए ही यह संगठन भारत बंद का एलान कर चुके हैं। यह किसान संगठन विरोध स्वरूप मुख्य मार्गों को बंद कर सकते हैं। खासकर चंडीगढ़ से दिल्ली और पंजाब के मुख्य मार्ग बंद करने की सूचना मिल रही है। पहले भी बंद के दौरान यह मार्ग बंद किए गए थे। इसी तरह से हिमाचल प्रदेश को जाने वाले सोलन शिमला मार्ग को भी बंद करने की तैयारी है।

जरूरी तभी घर से निकलें

अगर आप अपने वाहन यानी कार से कहीं जाने की सोच रहे हैं तो बेहद जरूरी होने पर ही जाएं, नहीं तो यह यात्रा आपको परेशानी में डाल सकती है। हो सकता है 100 किलोमीटर का सफर तय करने के लिए आपको 200 किलोमीटर चलना पड़े। ऐसा इसलिए कि मुख्य मार्ग बंद होने से लोकल रास्तों से सफर तय करना पड़ सकता है। इसमें भी टूटी सड़कें और नए रास्तों में परेशानी होनी तय है। इसलिए हो सके तो सोमवार की यात्रा टाल दें।

 

Edited By: Ankesh Thakur