जेएनएन, चंडीगढ़। बहिबलकलां व कोटकपूरा (फरीदकोट) में तीन साल पहले हुए गोलीकांड की जांच कर रही एसआइटी ने सोमवार को अकाली दल के प्रधान व पूर्व डिप्टी सीएम सुखबीर बादल से पूछताछ की। सुखबीर ठीक 2.30 बजे पूरे दलबल के साथ पुलिस हेडक्वार्टर पहुंच गए थे। वहां एक घंटा रहे, लेकिन पूछताछ 30 मिनट हुई। उन्होंने एसआइटी से कहा कि घटना के समय वे विदेश में थे। उल्लेखनीय है कि श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी के बाद बहिबलकलां व कोटकपूरा में गोलीकांड हुआ था जिसमें दो लोग मारे गए थे।

सुखबीर ने पत्रकारों से बातचीत में एसआइटी को राजनीति से प्रेरित होने का आरोप लगाया। उन्होंने दावा किया कि एसआइटी ने चार या पांच सवाल उनसे पूछे। ये सवाल पूर्ण रूप से तथ्यों पर आधारित नहीं थे। एसआइटी ने जिस एफआइआर के आधार पर उन्हें बुलाया वह तीन साल बाद दर्ज की गई। उन्होंने दावा किया कि राजनीतिक वेनडेटा (बदले की कार्रवाई) का इससे बड़ा उदाहरण और कुछ नहीं हो सकता कि एफआइआर दर्ज करने के लिए पुलिस ने शिकायतकर्ता को खुद फोन कर थाने बुलवाया। इस बात का जिक्र खुद एफआइआर में किया गया है।

एसआइटी के समक्ष भी उन्होंने इन बातों को रखा है। कभी ऐसा नहीं होता कि पुलिस शिकायतकर्ता को बुलाए। हमेशा ही शिकायतकर्ता पुलिस के पास जाता है, लेकिन यहां पर तो धारा ही उलटी बह रही है। उन्होंने दावा किया कि एसआइटी ने पूछा कि 12 अक्टूबर 2015 को जब गुरु ग्र्रंथ साहिब के अंग फाड़े गए तब आपने क्या निर्देश दिए, जिसके जवाब में मैंने कहा कि मैं यहां पर था ही नहीं।

8 अक्टूबर को चले गए थे विदेश

सुखबीर ने कहा कि एसआइटी को यह भी नहीं पता कि जिस दिन घटना हुई उससे छह दिन पहले से ही मैं देश में नहीं था। 8 अक्टूबर को ही मैं विदेश चला गया था, जबकि घटना 14-15 अक्टूबर की है। मेरे विदेश जाने की जानकारी मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल को भी थी।

अक्षय कुमार से पंजाब के बाहर कभी नहीं मिला

एसआइटी ने फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार के संबंध में भी सुखबीर से सवाल पूछे। जिस पर उन्होंने कहा कि अक्षय कुमार से पंजाब के बाहर मैं आज तक नहीं मिला हूं। उल्लेखनीय है कि एसआइटी ने अक्षय कुमार को भी सम्मन जारी किया है कि उन्होंने डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम व सुखबीर बादल की मुंबई में बैठक करवाई थी।
------

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!