चंडीगढ़, विकास शर्मा उड़नसिख पद्मश्री मिल्खा सिंह ने बुधवार को परिवार के साथ 90वां जन्मदिन मनाया। मिल्खा सिंह ने कहा कि मेरी लंबी उम्र का एक ही राज है कि मैं मुंह बंद रखता हूं और पैर खूब चलाता हूं।कोई भी मौसम हो मैं सुबह छह बजे उठकर गोल्फ खेलने जाता हूं। जिस दिन गोल्फ खेलने नहीं जाना होता, उस दिन जॉगिंग करता हूं।

फिटनेस के लिए मिल्खा ने घर पर ही जिम बनाया है। पिछले 30 साल से रात को खाना नहीं खाते। सुबह ब्रेकफास्ट और दिन में लंच करते हैं। खुश और व्यस्त रहना ही फिटनेस का राज है।

साल 1961 में काटा था पहली बार केक

मिल्खा सिंह बताते हैं कि जब देश आजाद हुआ तो वह 18 साल के थे। बंटवारे के दाैरान उनके परिवार को उनकी आंखों के सामने मार दिया, तब मेरे पिता ने मुझे कहा था कि भाग मिल्खा भाग, नहीं तो यह तुझे भी मार देंगे। यह शब्द आज भी मेरे कानों में गूंजते हैं।

मैंने नेहरू का भी दौर देखा और मोदी का दौर भी देख रहा हूं। आज मुझे रिटायर हुए 30 साल हो गए। मैंने साल 1961 में पहली बार केक काटा था। आज भी फिर काट रहा हूं यह मेरे और मेरे परिवार के लिए खुशी के पल हैं।

पाकिस्तानी रिपोर्टर ने याद दिला दिया मेरा बचपन

मिल्खा बताते हैं कि आज मेरे पास सब कुछ है, लेकिन फिर मुझे अपना बचपन बहुत याद आता है। उन्होंने बताया कि पांच-छह महीने पहले मुझे मुल्तान से एक पत्रकार का फोन आया। उसने मेरे गांव की बारे में जानकारी ली। मैंने उसे अपने गांव बस्ती बुखारियां के बारे में बताया जो मुल्तान से 60 मील की दूरी पर था। आज उस गांव का नाम गोबिंदपुरा है। उस पत्रकार ने वो वीडियो मेरे साथ साझा किया, जिससे मेरे बचपन की हर याद ताजा हो गई।

तीन घंटे की फिल्म में मेरे संघर्ष का सिर्फ ट्रेलर

मिल्खा सिंह ने बताया कि मेरे जीवन पर बनी फिल्म भाग मिल्खा भाग मेरे संघर्ष का पांच फीसदी भी नहीं है। मैंने बहुत गरीबी देखी है, बहुत धक्के खाए हैं, यह फिल्म सिर्फ ट्रेलर है। मेरे संघर्ष की कहानी तो 15 घंटे की फिल्म भी नहीं समेट सकती है, लेकिन खुश हूं कि अपने जीवन में मैंने सब कुछ हासिल किया। मैंने कभी हार नहीं मानी, हर चुनौती को स्वीकार किया।

मिल्खा ने जन्मदिन पर देशवासियों से यह गिफ्ट मांगा

अपने जन्मदिन पर मिल्खा सिंह ने देशवासियों से गिफ्ट भी मांगा। मिल्खा ने देशवासियों से अपील की वह आजादी की कीमत को पहचाने। लाखों लोगों ने अपने प्राणों की आहुति देकर हमें यह आजादी दिलाई है। देश की तरक्की में सहयोग करें, नशे से दूर रहें। स्वस्थ रहें अच्छा सोचे। आप अच्छे होंगे तो समाज अपने आप अच्छा होगा। उन्होंने कहा कि लोगों से मेरी यही अपील है कि आप तमाम उम्र दूसरों के लिए दौड़ते हो, आज से ही अपने लिए भी 10 मिनट दौड़े।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!