जागरण संवाददाता, चंडीगढ़ : पंचायत भवन को यूटी गेस्ट हाउस बनाने का फैसला लेने के बाद अब इसको कब तक नया रूप दिया जाएगा, यह समय सीमा भी तय कर दी गई है। एडवाइजर मनोज कुमार परिदा ने छह महीने के अंदर पंचायत भवन को गेस्ट हाउस में तब्दील करने का आदेश दिया है। इसमें आर्किटेक्ट डिपार्टमेंट को दो महीने के अंदर इसके जीर्णोद्धार का प्लान तैयार करना होगा। चीफ आर्किटेक्ट कपिल सेतिया यह काम देखेंगे। इस डिजाइन और प्लानिग के हिसाब से इंजीनियरिग डिपार्टमेंट को तीन महीने में काम पूरा करना होगा। हालांकि बिल्डिंग को तोड़ा नहीं जाएगा। केवल मेंटेनेंस वर्क ही होगा। पंचायत भवन के अंदरूनी हिस्से के साथ ही बाहरी रूप को भी बदला जाएगा। पंचायत भवन सेक्टर-18 मध्य मार्ग पर स्थित है। जो शहर की सबसे प्राइम लोकेशन है। यह सेक्टर-17 के एकदम साथ लगता है। पिछले सप्ताह एडवाइजर ने अधिकारियों के साथ पंचायत भवन का दौरा कर इसे शहर का दूसरा यूटी गेस्ट हाउस बनाने का निर्देश दिया था। होटल जैसे होंगे रूम, सुइट भी बनाने की तैयारी

पंचायत भवन के रूम होटल जैसे होंगे। कई रूम को ज्वाइंट कर सुइट बनाया जाएगा। पहली बार यहां सुइट भी होंगे। प्रशासन की तैयारी है कि पंचायत भवन में सिटको के होटलों की तर्ज पर सुविधाएं मिलें। जबकि रूम रेंट होटल से कम रखा जाएगा। अभी तक चंडीगढ़ में यूटी गेस्ट हाउस ही है। लेकिन यहां रूम की उपलब्धता कम ही रहती है। जिससे हर किसी को रूम नहीं मिल पाता। पंचायत भवन में रूम खाली ही रहते हैं। यहां कोई रुकना ही नहीं चाहता है। इसकी इमेज बेहद खराब है। अकसर यहां कोई एग्जीबिशन लगी रहती है। अब यहां डिलक्स रूम, लग्जरी रूम और सुइट बनाकर रेवेन्यू जुटाया जाएगा। इससे लोगों को सुविधा मिलने के साथ प्रशासन को रेवेन्यू मिलेगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!