चंडीगढ़ [विशाल पाठक]। दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर का एक विवादित वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें वह देश के गद्दारों को... स्लोगन कहते नजर आ रहे थे। इस संबंध में चंडीगढ़ में जब उनसे पूछा गया तो उन्होंने कहा, ''कोई भी विवादित स्लोगन मैंने नहीं कहा है। मीडिया के दुष्प्रचार और अधूरी जानकारी के कारण मुझ पर दंगा भड़काने और हिंसा करवाने के झूठे आरोप लगाए जा रहे हैं।''

अनुराग ठाकुर रविवार को चंडीगढ़ में सेक्टर-31 स्थित सीआइआइ में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। अनुराग ठाकुर ने कहा कि मामले की जांच चल रही है, इसलिए वह इस मामले पर ज्यादा कुछ नहीं कहेंगे। उन्होंने इस सबके लिए मीडिया को जिम्मेदार ठहराया। कहा कि मीडिया की अधूरी जानकारी के कारण यह सब कुछ हुआ है।सवालों से घिरने पर ठाकुर ने कहा यह जांच का विषय हैं, इस पर जांच चल रही है। ऐसे में वह इस विवादित स्लोगन को लेकर ज्यादा टिप्पणी नहीं करना चाहते।

दिल्ली में दंगा भड़काने वालों पर हो कार्रवाई

दिल्ली दंगों में जानमाल के नुकसान पर अनुराग ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार अपना काम कर रही हैं। दंगा भड़काने वालों में कोई भी व्यक्ति हो, चाहे वह किसी भी पार्टी, धर्म और समुदाय का हो उस पर उचित कार्रवाई की जाएगी। दंगाइयों की पहचान कर उनकी गिरफ्तारी कर कानूनी कार्रवाई की जा रही है। दिल्ली में दंगा भड़काने वालों को किसी भी हालत मे बख्शा नहीं जाएगा।

2025 तक भारत विश्व की तीसरी सबसे बड़ी इकोनॉमी का लक्ष्य

अनुराग ठाकुर ने कहा कांग्रेस के समय में भारत पूरे विश्व में इकोनॉमी के मामले में 11वें स्थान पर था, जो कि पिछले पांच सालों में 11वें से पांचवें स्थान पर पहुंच चुका है। केंद्र की मोदी सरकार का वर्ष 2025 तक भारत को पूरे विश्व में तीसरी सबसे बड़ी इकोनॉमी बनाने का लक्ष्य रखा गया है। इस लक्ष्य पर पीएम मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार काम कर रही है।

कोरोना वायरस का सबसे ज्यादा असर फार्मा क्षेत्र पर

ठाकुर ने बताया कि चीन में फैले कोरोना वायरस का असर भारत पर भी पड़ेगा। ऐसे में केंद्र सरकार ने हाल ही में देश के सभी अलग-अलग सेक्टर में काम करने वाले व्यापारियों और उद्योगपतियों के साथ बैठक की थी। बैठक में यह सामने आया कि चीन में काेरोना वायरस फैलने का सीधा असर भारत के फार्मा सेक्टर पर पड़ेेगा, क्योंकि भारत चीन से सबसे ज्यादा फार्मा सेक्टर में डील करता था।

ठाकुर ने कहा ऐसे में अब भारत ने खुद ही फार्मा सेक्टर में अपने नए आयाम स्थापित करने की प्लानिंग कर रहा है, ताकि इस प्रकार की दिक्कतों से भारत की इकोनॉमी पर कोई असर न पड़े। इस बैठक में व्यापारियों और उद्योगपतियों से यह जानकारी ली गई कि वह चीन से ज्यादातर किस सेक्टर में डील करते हैं। व्यापारियों और उद्योगपतियों को जानकारी साझा करने के लिए कहा गया है। साथ ही वित्त मंत्रालय भी उन सभी सेक्टर्स की रिपोर्ट बना रहा है, जिसमें भारत चीन के साथ डील कर कमाई करता था या चीन से माल मंगवाता था। (फोटो एएनआइ)

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!