चंडीगढ़, जेएनएन। यूटी प्रशासक वीपी सिंह बदनौर ने रविवार को सेक्टर-28 स्थित चंडीगढ़ स्पाइनल रिहैब का दौरा किया। इस दौरान प्रशासक बदनौर ने रोगियों के साथ बातचीत कर उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछा। उन्होंने स्पाइनल से जुड़े रोगियों के बेहतर इलाज के लिए 21 लाख रुपये का अनुदान दिया। इसके साथ ही रिहैब के संबंध में जरूरी इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करने और नए उपकरणों का प्रयोग करने के लिए कहा। चंडीगढ़ स्पाइनल रिहैब के संस्थापक एवं सीईओ निक्की पी कौर भी मौजूद रहीं। उन्होंने सेंटर को ग्रांट देने के लिए प्रशासक का आभार व्यक्त किया।

इस अवसर पर प्रशासक बदनौर ने कहा कि चंडीगढ़ स्पाइनल रिहैब द्वारा किए जा रहे ऐसे अच्छे काम के बारे में मुझे जानकारी नहीं थी। उन्होंने इस दौरान व्हीलचेयर बैंड, फ्लोइंग करमा को पंजाब राजभवन में राष्ट्रगान गाने के लिए आमंत्रित किया। वहीं निक्की पी कौर ने कहा कि इससे उनका उत्साह बढ़ेगा और यहां पर रह रहे लोगों की सुविधाएं बढ़ाने और जरूरी इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करने में मदद मिलेगी। इस दौरान प्रशासक के साथ जोधपुर के महामहिम महाराजा गज सिंह भी स्पाइनल रिहैब विजिट करने पहुंचे थे। जिन्होंने चंडीगढ़ स्पाइनल रिहैब द्वारा प्रदान की जा रही सुविधा की सराहना की। जो रीढ़ की हड्डी में चोट के साथ रोगियों के जीवन की गुणवत्ता में सुधार कर रहा है।

यहां रहने वाले लोग हम सबके लिए प्रेरणा

उन्होंने कहा कि यहां रहने वाले सभी लोग, हम सभी के लिए एक सच्ची प्रेरणा हैं और हमें उनसे सीखने का मौका मिला है कि हमें सभी परिस्थितियों में खुश रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि चंडीगढ़ स्पाइनल रिहैब उन लोगों में आत्मविश्वास बहाल करने में काम कर रहा है। जिन्हें रीढ़ की हड्डी में चोट लगी थी। वे सभी अब पूरे सम्मान और गरिमा के साथ अपनी जिंदगी जी रहे हैं। उन्होंने आश्वासन दिया कि वह अब रिहैब के साथ निरंतर जुड़े रहेंगे। इस अवसर पर रिहैब में रहने वाले सभी लोगों की सफलता की कहानियों पर एक प्रस्तुति भी दी गई।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!