चंडीगढ़ [राजन सैनी]। जिला अदालत ने बिना लाइसेंस के पोर्क मीट बेचने वाले व्यक्ति को दोषी ठहराते हुए 500 रुपये जुर्माना लगाया है। दोषी की पहचान सेक्टर-25 निवासी सुरिंद्र के रुप में हुई। अगर सुरिंद्र अदलत द्वारा लगाए जुर्माने को नहीं भरता तो उसे दस दिन तक जेल में रहना पड़ेगा।

म्युनिसिपल कॉपोरेशन को सूचना मिली थी कि सुरिंद्र बिना लाईसेंस के ही पोर्क मीट बेच रहा है। जब म्युनिसिपल की टीम ने जाकर छापा मारा तो जो सूचना मिली थी वह सही निकली। इसके बाद म्युनिसिपल कॉपोरेशन ने 24 सितंबर, 2015 को सुरिंद्र का चालान कर दिया। इसके साथ ही सात दिन के अंदर एमओएच की इमारत में पेश होने के लिए कहा। लेकिन सुरिंद्र वहां पर नहीं आया ताे म्युनिसिपल कॉपोरेशन ने जिला अदालत में सुरिंद्र के खिलाफ केस दायर किया। अब अदालत ने सुरिंद्र को दोषी ठहराते हुए यह फैसला सुनाया है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sat Paul

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!