चंडीगढ़, जेएनएन। आम आदमी पार्टी के पंजाब से राज्यसभा सदस्‍य राघव चड्ढा को संसद की वित्तीय मामलों की  स्थायी समिति का सदस्य नियुक्त किया गया है। यह समिति बेहद अहम है और राघव चड्ढा को इसमें शामिल करना पंंजाब के लिए भी महत्‍वपूर्ण है।  

राज्‍यसभा के सबसे कम उम्र के सदस्‍य हैंं राघव चड्ढा   

33 वर्षीय राघव चड्ढा सबसे कम आयु के राज्यसभा सदस्‍य हैं। वह आर्थिक मामले के अच्‍छे जानकार माने जाते हैं औ  पेशे से चार्टर्ड एकाउंटेंट हैं। यह पद मिलने के बाद अब वह तीन केंद्रीय मंत्रालयों एवं नीति आयोग की नीतियों संबंधित निर्णय लेने के मामले में विधायी सहायता प्रदान करेंगे।

संसद में महंगाई और जीएसटी के मुद्दों पर मुखर रहे 

राघव चड्ढा लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स के पूर्व छात्र हैं और इस साल अगस्त में संसद में अपने पहले सत्र में महंगाई और जीएसटी जैसे आर्थिक मुद्दों पर मुखर रहे थे। उन्होंने इन मुद्दों को लेकर गंभीर सवाल उठाए। पंजाब की आर्थिक हालत को लेकर भी राघव चड्ढा उठाते रहे हैं और माना जा रहा है कि उनके संसद की वित्‍तीय मामलों की स्‍थायी समिति में शामिल होने से पंजाब के आर्थिक मामलों से संबंधित पक्ष को मजबूती मिलेगी। 

सियासी व आर्थिक मामलों के जानकारों का कहना है कि राघव चड्ढा का संसद की इस तरह की महत्‍वपूर्ण समिति में शामिल होना उनकी वित्तीय विशेषज्ञता काे प्रतिबिंबत करता है। वह पंजाब से आम आदमी पार्टी के सात राज्यसभा सदस्‍यों में से एक हैं।

आप के गुजरात में सह प्रभारी हैं  

राघव चड्ढा पंजाब विधानसभा चुनाव के दौरान आम आदमी पार्टी के सह प्रभारी होने के साथ प्रमुख रणनीतिकार रहे। वह अब  गुजरात विधानसभा चुनाव के मद्देनजर वहां महत्‍वपूर्ण  भूमिका निभा रहे हैं। आम आदमी पार्टी ने उनको गुजरात में पार्टी का सह प्रभारी बनाया है और वह विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार में जुटे हुए हैं।  राघव चड्ढा को आप के राष्‍ट्रीय संयोजक व दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और पंजाब के मुख्‍यमंत्री भगवंत मान का करीबी माना जाता है।  

Edited By: Sunil Kumar Jha

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट