चंडीगढ़ [कुलदीप शुक्ला]। प्रॉपर्टी डीलर सोनू शाह हत्याकांड में यूपी पुलिस के रिमांड में चल रहे गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के खिलाफ साजिश करने और हत्या की धारा के तहत एफआइआर दर्ज करने की प्रक्रिया पूरी हो गई है। सूत्रों की माने तो यूटी पुलिस ने रिमांड में लॉरेंस बिश्नोई द्वारा साजिश के तहत सोनू शाह की हत्या करवाने की बात कबूल करने के बाद एफआइआर दर्ज कर ली गई है। हालांकि इस मामले को लेकर यूपी पुलिस के आला अधिकारियों की शाम को मीटिंग बुलाई गई है। जिसके बाद पुलिस विभाग की ओर से अधिकारिक तौर पर लॉरेंस के खिलाफ एफआइआर दर्ज करने की पुष्टि कर दी जाएगी।

यूपी पुलिस ने राजस्थान के जोधपुर जेल में बंद लॉरेंस बिश्नोई को प्रोडक्शन वारंट पर लाकर चार दिनों का रिमांड हासिल किया है। वहींं खन्ना पुलिस द्वारा गिरफ्तार लॉरेंस गैंग के गैंगस्टर शुभम प्रजापति बिगनी पहले से क्राइम ब्रांच के अंडर में 7 दिनों की रिमांड पर चल रहा था। दोनों को आमने-सामने बैठाकर लगभग 6 घंटे की पूछताछ के दौरान लॉरेंस बिश्नोई ने चंडीगढ़ में सोनू शाह की हत्या करवाने की बात कबूल कर ली थी।

धर्मेंद्र ने भी कबूली थी हत्यारों की मदद की बात

खन्ना पुलिस द्वारा गिरफ्तार गैंगस्टर शुभम प्रजापति ने चंडीगढ़ में सोनू शाह की हत्या लॉरेंस बिश्नोई के कहने पर कबूल की थी, जिसके बाद शुभम को प्रोडक्शन वारंट में लेकर यूटी पुलिस ने 7 दिनों का रिमांड हासिल किया था। शुभम प्रजापति ने जोधपुर जेल में बैठे गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के इशारे पर काला राणा राजन और राजू के साथ मिलकर बुरा लिखती तो ऑफिस में बैठे सोनू शाह की गोलियों से भून कर हत्या करने की बात से पर्दा उठाया था। इससे पहले सोनू शाह मर्डर केस मामले में गिरफ्तार बुडैल में होटल संचालक धर्मेंद्र ने भी लॉरेंस बिश्नोई के कहने पर हत्यारों की मदद की बात कबूली थी। इसी आधार पर यू पुलिस लॉरेंस बिश्नोई को प्रोडक्शन वारंट पर लाकर रिमांड पर लिया है।

बिश्नोई से हो सकता कई अपराधिक मामलों का खुलासा

शुभम प्रजापति बिगनी को यूटी पुलिस प्रॉपर्टी डीलर सोनू शाह गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई गैंग का गुर्गा शुभम बिगनी शॉटपुट का नेशनल प्लेयर रहने के साथ पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और चंडीगढ़ के विभिन्न थानों में वांटेड हैं। पुलिस का दावा है कि रिमांड में शुभम ने अपने साथी काला राणा, राजू और राजन के साथ मिल लॉरेंस के इशारों पर चंडीगढ़ में सोनू शाह की हत्या कबूल चुका हैं। जोधपुर जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई और शुभम के लिंक से चंडीगढ़ सहित पंजाब और हरियाणा के भी कई वारदातों के सुराग मिल सकते हैं। 

निशानदेही पर हरियाणा-पंजाब और राजस्थान में छापामारी

चंडीगढ़ पुलिस अधिकारियों के नेतृत्व में गैंगस्टर शुभम प्रजापति बिगनी से लगातार पूछताछ जारी है। पुलिस की अलग-अलग टीम शुभम की निशानदेही पर हत्या के जुड़े सभी तथ्यों को जांच में लगी हैं। पुलिस अधिकारियों के नेतृत्व में राजस्थान, पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ के कुछ मुख्य स्थानों पर छापामारी और सर्च अभियान भी जारी है। पुलिस सोनू के हत्या की पूरी प्लानिंग, इस्तेमाल हथियार बरामदगी, गोली चलाने वाले राजू, राजन और काला राणा की गिरफ्तारी सहित मुख्य वजह के खुलासे में लगी हैं।

यह है मामला

28 सितंबर को बुुड़ैल ऑफिस में सोनू शाह की दिनदहाड़े पांच बदमाशों ने 15 गोलियां चलाकर उसकी हत्या कर फरार हो गए थे। सोनू के साथ मौजूद दो साथी भी गोली लगने से घायल हो गए थे। वारदात के करीब एक घंटे बाद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई की फेसबुक आईडी से सोनू की हत्या की जिम्मेदारी ली थी। यूटी पुलिस की करीब 47 लोगों से पूछताछ के बाद दोबारा से लॉरेस के उसी आइडी से हत्या की जिम्मेदारी लेकर पुलिस को धमकी दी थी। जिसके बाद पुलिस ने बुड़ैल स्थित एक होटल संचालक धर्मेंद्र को गिरफ्तार कर लिया था।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!