मोहाली, जेएनएन। चंडीगढ़ में पीजी में लगी आग के बाद शनिवार सुबह मोहाली फेज-5 स्थित विशाल मेगामार्ट ग्रोसरी स्टोर में लगी भीषण आग शनिवार रात साढे़ 11 बजे और विकराल हो गई। आग शोरूम की बेसमेंट में लगी थी और शोरूम बंद होने के कारण अंदर काफी धुआं भर गया था। देर रात आग पहले फ्लोर तक पहुंच गई और साथ लगते शोरूम कल्याण ज्वेलर्स की दीवार भी इसी कारण गिर गई। इससे पहले अधिकारियों के कहने के बाद ज्वेलर्स शोरूम खाली करवा लिया गया था। एयरफोर्स और चंडीगढ़, पंचकूला, मोहाली, बनूड और खरड़ से फायर ब्रिगेड की 100 गाड़ियों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया।

इससे पहले जैसे ही शोरूम में सफाई करने के लिए आठ बजे कर्मचारी ने गेट खोला तो अचानक काला धुंआ बाहर निकला। शोरूम के बेसमेंट में आग लगी देख उसने तुरंत स्टोर के मैनेजर जतिंदर को फोन पर सूचना दी। जतिंदर ने पुलिस कंट्रोल रूम व फायर विभाग को आग लगने की सूचना दी। आग की सूचना मिलते ही एसएचओ फेज-1 मनफूल सिंह व फायर ऑफिसर मोहन लाल वर्मा फायर टीम लेकर मौके पर पहुंचे। आग सुबह छह बजे के करीब शोरूम की बेसमेंट में हुए शॉर्ट सर्किट के कारण लगी बताई जा रही है।

बेसमेंट तक जाने के लिए नहीं था रास्ता

फायर ऑफिसर मोहन लाल वर्मा ने बताया कि आग बेसमेंट में लगी थी लेकिन वहां तक जाने के लिए रास्ता नहीं मिल रहा था। शोरूम में कैपेसिटी से ज्यादा सामान रखा हुआ था। यही नहीं बेसमेंट को जाने वाली सीढि़यों पर भी सामान रखा हुआ था। दूसरी तरफ इतना ज्यादा धुआं था कि अंदर जाना असंभव था।

फायर ऑफिसर मोहन लाल ने बताया कि ब्रीथिंग अपरेट पहनकर कर्मचारी आग बुझाने के लिए बेसमेंट में गए थे लेकिन धुएं से पता नहीं लग रहा था कि आग किस तरफ ज्यादा लगी हुई है। धुएं को निकालने के लिए शोरूम की बैक साइड से जेसीबी मशीन से गड्ढा किया और उसके बाद कटर मशीन से सरिया काटकर एक बड़ा होल बनाया गया जहां से धुआं बाहर निकाला गया। धुंआ कम होने के बाद सीढ़ी लगाकर पानी फेंका गया।

कपड़े व घी के कारण भड़की आग

बेसमेंट में बच्चों, लेडीज व जेंट्स के कपड़ों का सेक्शन था। बेसमेंट के एक कोने में घी के डिब्बे भी स्टोर थे और एक कोने में छोटे से लेकर बड़े टेडी बीयर रखे हुए। जब शॉर्ट सर्किट हुआ तब सबसे पहले आग कपड़ों को लगी जिसके बाद आग ने सभी को अपनी चपेट में ले लिया।

एनडीआरएफ की टीम की लेनी पड़ी मदद

खबर लिखे जाने तक भी आग पर काबू नहीं पाया गया था। फायर अधिकारी मोहन लाल वर्मा ने बताया कि चंडीगढ़ व मोहाली की कुल मिलाकर 100 गाड़ियों की मदद से आग को बुझाने का प्रयास किया जा रहा है। हालात खराब होते देख एनडीआरएफ की टीम को प्रशासन ने देर शाम बुलाया था। एयरफोर्स स्टेशन से भी कई फायर ब्रिगेड मंगवाई गई हैं। पिंजौर से एनडीआरएफ की एक टीम पहुंचकर ऑपरेशन में जुट गई है। शोरूम के साथ कल्याण व रिलायंस फ्रेश के स्टोर हैं जिन्हें बंद करवा दिया गया था।

मोहन लाल वर्मा ने बताया कि शोरूम में आग बुझाने का कोई प्रबंध नहीं था, नहीं तो आग पर पहले ही काबू पा लिया जाता। इस संबंधी फायर ब्रिगेड ने शोरूम मालिकों को पहले भी नोटिस भेजकर फायर सिस्टम दुरुस्त करने के निर्देश दिए थे लेकिन कंपनी प्रबधकों ने नोटिस की कोई परवाह नहीं की। फिलहाल कंपनी के खिलाफ कार्रवाई के लिए अधिकारियों को लिखकर भेज दिया गया है।

साफ तौर पर शोरूम अधिकारियों की लापरवाही सामने आई है। जिन्हें पहले भी फायर विभाग की ओर से नोटिस दिया जा चुका है। उनके खिलाफ एक और नोटिस जारी कर दिया गया है। शोरूम अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई होगी।

-जगदीप सहगल, एसडीएम, मोहाली।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!