जागरण संवाददाता, चंडीगढ़। चंडीगढ़ के धनास स्थित शहर की सबसे बड़ी मार्बल मार्केट के साथ बसाई गई फर्नीचर में शनिवार देर रात भयंकर आग लग गई। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप ले लिया और कई दुकानों को अपनी चपेट में ले लिया। दुकानों से उठतीं आग की बड़ी लपटों को देखकर आसपास रह रहे लोगों में हड़कंप मच गया। घटना की सूचना तुरंत पुलिस कंट्रोल रूम में दी गई। जानकारी मिलते ही पुलिस और दमकल विभाग की 11 गाड़ियां मौके पर पहुंची और आग बुझाने के लिए ऑपरेशन शुरू कर दिया। लगभग दो घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद दमकल विभाग के कर्मचारियों को आग बुझाने में कामयाबी मिली। 

इस आगजनी की घटना में कुल नौ दुकानें जल गईं। इन दुकानों में रखा सामान पूरी तरह आग की भेंट चढ़ गया। आग पर काबू पाने के बावजूद अगले दिन सुबह तक आग सुलग रही है। दुकानों के कर्मचारी बचा खुचा सामान समेट रहे हैं। इस दुकानदारों को करोड़ों रुपये का नुकसान हुआ है। 

एक दुकानदार ने बताया कि उसे किसी ने रात 2.30 बजे आग लगने की सूचना फोन पर दी। वह तुरंत घर से भागा चला आया। जब वह दुकान पर पहुंचा तो आग इतनी ज्यादा फैल चुकी थी कि दुकान में रखा सामान वहीं पर जलकर आंखों के सामने राख हो गया।

फर्नीचर मार्केट में आग की यह घटना रात ढाई बजे की है। तकरीबन तड़के सुबह 3 बजे लोगों ने हादसे की सूचना पुलिस को दी। प्राथमिक जांच में सामने आया है कि आग शार्ट सर्किट की वजह से लगी है। फायर ब्रिगेड और पुलिस कर्मियों ने जब तक पर काबू पाया तब तक आग नौ दुकानों को अपने चपेट में ले चुकी थी। गनीमत यह रही कि हादसे में किसी तरह का जानी नुकसान नहीं हुआ है, लेकिन पुलिस की प्राथमिक जांच में डेढ़ करोड़ का नुकसान होने की बात सामने आ रही है।

Edited By: Ankesh Thakur