जेएनएन, चंडीगढ़। यहां एक सरकारी स्कूल की 34 वर्षीय महिला टीचर को ट्यूशन पढ़ने वाले 14 साल के छात्र से प्‍यार हाे गया। वह उससे शारीरिक संबंध बनाने लगी। वह छात्र के साथ कई महीनों तक शारीरिक संबंध बनाती रही। वह नाबालिग को पोर्न वीडियो भेजती और रात को अश्लील चैट भी करती। वीरवार को जब मामले का खुलासा हुआ तो दो बच्चों की मां इस टीचर ने कहा कि वह उस लड़के के बिना नहीं रह सकती। इसके लिए उसने पहले अपने घर और बाद में पीडि़त के घर जाकर खूब हंगामा किया।उसने बच्चे को अपने साथ कमरे में बंद कर लिया और वहां एक कफ सीरप की पूरी शीशी पीकर आत्‍महत्‍या करने की कोश्‍ािश भी की। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

अंधा प्यार : दो बच्चों की टीचर मां को नाबालिग से हुआ प्यार

फिलहाल पुलिस ने आरोपित महिला के खिलाफ पॉक्सो एक्ट की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है। मोहाली चाइल्ड प्रोटेक्शन यूनिट के अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार टीचर बच्चे के लिए काफी पोजेसिव हो चुकी है। दवा पीने के बाद वह बेहोश हो गई । बाद में उसे जीएमसीएच-32 अस्पताल में भर्ती करवाया है। दूसरी तरफ महिला टीचर का कहना है कि उसे बदनाम करने की कोशिश की जा रही है इसलिए उसने यह दवाई पी थी।

बच्चे को दे रखा था फोन, भेजती थी पोर्न वीडियो व मैसेज

चाइल्ड लाइन 1098 की प्रोजेक्ट डायरेक्टर डॉ. संगीता जंड ने बताया कि बच्चे के पेरेंट्स के अनुसार, घर के करीब ही रहने वाली टीचर के पास उन्होंने सितंबर 2017 में अपने बच्चे को ट्यूशन पर रखा था। पहले बेटी भी ट्यूशन जाती थी। लेकिन बाद मे टीचर ने बेटी को यह कहकर पढ़ाने से इन्‍कार कर दिया कि वह पढ़ने में कमजोर है। वह केवल बेटे को ही ट्यूशन पढ़ाएगी। टीचर ने बेटे को एक फोन भी लेकर दिया था।

उन्होंने आरोप लगाया कि टीचर छात्र से फोन पर रात को अश्लील चैटिंग भी करती थी। छात्र के परिजनों ने पहले ये समझा गया कि रूटीन में पढ़ाई को लेकर मैसेज होते होंगे। लेकिन, कुछ दिन पहले चैटिंग व अश्लील मैसेज देखा तो मामले का पता चला। सूत्रों के अनुसार महिला टीचर ने मार्च 2018 से नाबालिग से शारीरिक संबंध भी बनाने शुरू कर दिए थे।

पढ़ने नहीं आने पर घर पहुंच जाती थी

छात्र के पेरेंट्स ने बताया कि जिस दिन उनका बेटा ट्यूशन की छुट्टी करता था तो टीचर घर पहुंच जाती। बच्चे के करियर का हवाला देकर उसे पढ़ने के लिए उसके घर भेजने की जिद करती। अभिभावकों ने बताया कि उनके बेटे की सेहत भी कमजोर होने लगी थी और मार्च में रिजल्ट आने पर नंबर भी कम आए। जब उन्होंने उसे ट्यूशन से हटा लिया तो वह घर पर आई और दोबारा ट्यूशन पर रखने की बात करने लगी। शक होने पर उन्होंने बेटे का फोन पकड़ लिया तो मामले का खुलासा हुआ।

महिला टीचर ने पति से कहा- मुझे इस लड़के के साथ ही रहना है

छात्र के पेरेंट्स ने बताया कि उस महिला टीचर का पति कहीं बाहर गया था। उसने अपने खुद के दो बच्चों को नानी के घर भेज दिया। बाद में उसने उनके बेटे को बहाने से घर पर बुलाया और उसके कमरे में लॉक कर दिया। परिजनों के पहुंचने पर महिला टीचर ने कहा कि वह लड़के के बिना नहीं रह सकती है और दोनों एक दूसरे के साथ रहना चाहते है। पड़ोसियों की मदद से बच्चे को छुड़वाया गया।

उसने अपने पति से भी कह दिया कि अब से वह इस लड़के के साथ ही रहेगी। उसका खुलासा होने के बाद पीडि़त परिजनों की शिकायत पर केस दर्ज करवाया गया। जब वह बेटे को अपने घर पर ले गए तो वह महिला उनके घर पर पहुंची और उसने खुदकशी की कोशिश की।

पहले परिजनों ने की समझौते की बात, बाद में दी शिकायत

चाइल्ड लाइन 1098 की प्रोजेक्ट डायरेक्टर डॉ. संगीता जंड ने बताया कि मामले के खुलासे के बाद पीडि़त परिजन समझौता करने की बात करने लगे। वे लिखित शिकायत देने से मना करने लगे। बाद में उन्होंने शिकायत दी।

------

'' मामले में महिला टीचर के खिलाफ पोस्को एक्ट के तहत केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है। पीडि़त के बयान भी दर्ज करवाया गया है। पुलिस मामले की जांच में लगी है।

                                                                               - नीलांबरी विजय जगदाले , एसएसपी चंडीगढ़।

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!