जागरण संवाददाता, चंडीगढ़ : शहर के विभिन्न कॉलेजों में हो रहे सेंट्रलाइज एडमिशन की पहली काउंसलिंग के बाद 42 प्रतिशत सीटें खाली रह गई हैं। स्नातक स्तर के 6 विषयों पर स्टूडेंट्स का सबसे ज्यादा क्रेज रहता है जिसमें बीकॉम, बीबीए, बीसीए, बीएससी मेडिकल, बीएससी नॉन मेडिकल और बीएससी कम्प्यूटर साइंस अहम है। 6 कोर्स के लिए 6430 सीटें है, जिन पर 85 प्रतिशत यूटी और 15 प्रतिशत सीटों पर आउट साइड स्टूडेंट्स का दाखिला होता है। पहली काउंसलिंग के बाद विभिन्न कोर्स की 3784 सीटें खाली रह गई हैं। जिन्हें भरने के लिए हायर एजुकेशन विभिन्न ने ऑनलाइन अप्लाई करने की डेट 15 जुलाई तक बढ़ाते हुए कुछ विशेष निर्देश भी जारी किए हैं। विषय- कितनी है सीटें- कितनी भरी- कितनी खाली

1.बीकॉम-2310-1305-1005

2.बीबीए- 560-161-399

3.बीसीए-920-392-528

4.बीएससी मेडिकल-840-271-569

5.बीएससी नॉन मेडिकल-1410-411-999

6.बीएससी कम्प्यूटर साइंस-390-106-284 पहली काउंसलिंग में अपीयर हुए स्टूडेंट्स बदल सकते हैं कॉलेज

हायर शिक्षा विभाग ने दूसरी काउंसलिंग का समय बढ़ा दिया है। 12 और 13 जुलाई को स्टूडेंट्स को दूसरी काउंसलिंग लेने के लिए कहा गया था। शुक्रवार शाम को विभाग की तरफ से इसे अप्लाई करने का समय 15 जुलाई तक बढ़ा दिया है। जिसमें स्टूडेंट्स को छूट दी गई है कि यदि स्टूडेंट्स को अपने मनचाहे कॉलेज में दाखिला नहीं मिला है तो वह फार्म को एडिट करके दूसरे कॉलेज का नाम भर सकते हैं। इसके अलावा जिन स्टूडेंट्स ने किसी कॉलेज में एडमिशन ले लिया है और वह कॉलेज को बदलना चाहता है तो वह भी अप्लाई कर सकता है। पहली काउंसलिंग के बाद ज्यादा सीटें खाली रह गई हैं। जिसको देखते हुए नियमों में कुछ ढील दी गई है। स्टूडेंट्स 15 जुलाई तक अप्लाई कर सकते है।

बिक्रम राणा, नोडल ऑफिसर।

By Jagran