चंडीगढ़, जेएनएन। सड़क हादसे में डेराबस्सी के बलदेव चंद की मौत के मामले में मोटर एक्सीडेंट क्लेम ट्रिब्यूनल ने परिजनों को 22 लाख रुपये क्लेम दिए जाने का फैसला सुनाया है। बलदेव चंद की पिछले साल सड़क हादसे में मौत हो गई थी। मौत के बाद मृतक की पत्नी राज दुलारी, बेटे अशोक कुमार और विकास कुमार की तरफ से ट्रिब्यूनल में क्लेम के लिए याचिका दायर की गई थी। याचिका में बताया कि 29 सितंबर 2018 को बलदेव चंद अपनी मोटरसाइकिल से डेराबस्सी से जीरकपुर की तरफ जा रहा था। वह अपनी लेफ्ट साइड पर था और उसकी स्पीड भी नॉर्मल ही थी।

तेज रफ्तार ट्रक ने मारी थी टक्कर

शाम करीब साढ़े पांच बजे जब वह भांकर गांव के पास लाइट प्वाइंट पर पहुंचा तो एक तेज रफ्तार ट्रक ने उसकी मोटरसाइकिल को टक्कर मार दी। टक्कर लगते हुए बलदेव सड़क पर गिर गया और ट्रक का टायर उसके सिर से गुजर गया। बलदेव की मौके पर ही मौत हो गई। ट्रक को पिहोवा, हरियाणा निवासी जसविंदर सिंह चला रहा था। परिवार ने आरोप लगाया कि जसपिंदर की लापरवाही के कारण ये हादसा हुआ और बलदेव की जान चली गई। डेराबस्सी पुलिस ने जसविंदर सिंह के खिलाफ केस दर्ज कर लिया था।

परिवार ने 75 लाख रुपये मांगा था क्लेम

हादसे के वक्त बलदेव चंद की उम्र 61 साल थी। वह डेराबस्सी में शक्ति टिंबर एंड प्लाइवुड का प्रॉपराइटर था। इसके अलावा उसका खेतीबाड़ी का भी काम था। परिवार ने याचिका में कहा कि बलदेव की महीने की कमाई 50 हजार रुपये थी। उन्होंने ट्रिब्यूनल से 75 लाख रुपये का क्लेम दिए जाने का मांग की, लेकिन ट्रिब्यूनल ने दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद उनके परिवार को 22 लाख 60 हजार 90 रुपये क्लेम दिए जाने का फैसला सुनाया।

 

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें  

 

Posted By: Sat Paul

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!