जागरण संवाददाता, मोहाली। मोहाली पुलिस का दावा है कि पिछले तीन साल में जितनी भी लूट की वारदातें हुई सभी के आरोपितों को पकड़ लिया गया है। लेकिन जीरकपुर लूट के मामले में पुलिस के हाथ अभी खाली है। सीसीसटीवी फुटेज खंगालने और कुछ लोगों से शक के आधार पर पुलिस ने पूछताछ जरूर की है ? लेकिन आरोपित अभी पुलिस गिरफ्त से दूर है। जिले में जुलाई माह तक कुल 20 केस गन प्वाइंट पर लूट के रजिस्टर्ड किए गए। पुलिस दावा कर रही है कि 99 फीसदी केसों का सॉल्व किया जा चुका है। जो बचे है उनके आरोपितों को जल्द पकड़ लिया जाएगा।

एसएसपी सतिंदर सिंह ने बताया कि कुल 32 आरोपितों को इन मामलों में पकड़ा गया है। कई केसों को तो कुछ घंटों में ही हल कर लिया गया। अगर लूट की वारदातों की बात की जाए तो मोहाली में हर साल गन प्वाइंट पर लूट के मामलों में बढ़ोतरी हो रही है। 2019 में 14 केस रजिस्टर्ड किए गए है। सभी केसों को हल कर दिया गया कुछ 15 आरोपितों को इन मामलों में गिरफ्तार किया गया। 2020 में 14 केस रजिस्टर्ड हुए कुल 14 आरोपित पकड़े गए। 2021 में जुलाई माह तक 20 केस रजिस्टर्ड हुए है और 32 आरोपितों को पकड़ा जा चका है।

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि पेट्रोल पंप लूट, कार लूट और गन प्वाइंट पर सामान छीनने के केसों में बढ़ोतरी हो रही है। जीरकपुर में शर्मा इंक्लेव में मूथुट फाइनांस के मैनेजर से लूट के मामले में पुलिस का कहना है कि इस केस में कुछ अहम सुराग हाथ लगे है। इस मामले में जल्द ही आरोपितों को पकड़ लिया जाएगा। ध्यान रहे कि जीरकपुर में पिछले सप्ताह दिनदहाड़े एक घर में घुस कर लुटेरों ने घर के सदस्यों को बंधक बना लाखों रुपए का गोल्ड व अन्य सामान लूट कर ले गए थे। एक सप्ताह बाद भी इस मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं हुई।

Edited By: Vinay Kumar