जासं, चंडीगढ़। Chandigarh Coronavirus Vaccination: महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण शिक्षा परिषद (एमजीएनसीआरइ) शिक्षा मंत्रालय भारत सरकार के सहयोग से एमसीएम डीएवी कॉलेज फॉर वुमेन ने कोविड टीकाकरण के प्रति लोगों को जागरूक किया।चंडीगढ़ ने शुरू किए गए कोविड टीकाकरण जागरूकता अभियान को-विजय को आगे बढ़ाते हुए बड़हेड़ी और बुटेरला गांव में जागरूकता अभियान का आयोजन किया।

छात्राें, स्वयंसेवकों और (एमजीएनसीआरइ) के अधिकारियों के साथ संकाय सदस्यों की एक टीम ने कोविड टीकाकरण के बारे में जागरूकता पैदा करने और ग्रामीणों को टीकाकरण के लिए प्रेरित करने के उद्देश्य से इन गांवों का दौरा किया।टीम ने घर-घर जाकर कोविड टीकाकरण के बारे में दोनों गांवों के निवासियों की आशंकाओं और मिथकों को दूर किया। इस अभियान के तहत टीम ने 210 से अधिक घरों को कवर किया।

यह भी पढ़ें-Ludhiana Weather Forecast : लुधियाना पर मानसून मेहरबान, सुबह-सुबह रिमझिम बरसे बादल; मौसम हुआ कूल-कूल

 

रैलियों के माध्यम से लाेगाें काे किया अवेयर

रैलियों के माध्यम से कोविड से सुरक्षा के लिए अनुशासित व्यवहार करने के लिए प्रेरित किया गया।कार्यक्रम के दौरान एक सर्वेक्षण आधारित शोध अध्ययन भी किया गया जिसमें ग्रामीणों को टीकाकरण के लिए प्रेरित करने और व्यवहार में बदलाव लाने के लिए पहले जागरूकता अभियान की सफलता का आंकलन किया। आंकड़ों से पता चलता है कि अभियान का ग्रामीणों की टीकाकरण की संख्या पर सकारात्मक प्रभाव पड़ा है।

यह भी पढ़ें-दो बहनों को हो गया प्‍यार, घर से भागकर रचाई शादी तो भाई ने किया कन्यादान, लुधियाना की घटना

 

कोविड के खिलाफ लड़ाई को मजबूत करेगी पहल

प्राचार्या डॉ. निशा भार्गव ने कहा कि अपनी सामाजिक जिम्मेदारी को समझते हुए एमसीएम कोविड के प्रकोप के बाद से सूचनात्मक वीडियो, मास्क के वितरण, शैक्षिक पोस्टरों के प्रदर्शन आदि के माध्यम से कोरोना वायरस के बारे में जागरूकता बढ़ाने की दिशा में लगातार काम किया है। उन्होंने उम्मीद जताई कि यह पहल कोविड के खिलाफ लड़ाई को मजबूत करने में मदद करेगी।

यह भी पढ़ें-प्यार में धाेखा! ससुराल के 25 लाख खर्च करवा कनाडा गई महिला ने पति से ताेड़ा रिश्ता, प्रेमी के साथ बसाया घर

 

Edited By: Vipin Kumar