चंडीगढ़, [राजेश ढल्ल]। कांग्रेस ने भाजपा शासित नगर निगम के खिलाफ सोशल मीडिया पर 'स्पीकअप फॉर चंडीगढ़' के नाम से अभियान चलाने का फैसला लिया है। जिसके तहत पार्टी के नेताओं को बढ़े हुए पानी के रेट्स और पिछले छह साल से भाजपा के कार्यकाल में शहरवासियों पर टैक्स थोपे गए हैं। उस पर एक वीडियाे बनाकर भेजने के लिए कहा गया है। सभी नेताओं को 21 अक्तूबर की शाम तक सोशल मीडिया की टीम को भेजने के लिए कहा है।

कांग्रेस अध्यक्ष प्रदीप छाबड़ा का कहना है कि यह वीडियो चंडीगढ़ कांगेस के फेसबुक और ट्विटर अकाउंट पर चलाया जाएगा। ऐसा पहली बार हुआ जब कांग्रेस भाजपा के खिलाफ सोशल मीडिया का सहारा लेकर अभियान चला रही है। पार्टी प्रभारी एवं पूर्व सीएम हरीश रावत के आदेश पर यह अभियान शुरू किया गया है।

मालूम हो जब से रावत चंडीगढ़ कांग्रेस के प्रभारी बने हैं। तब से स्थानीय स्तर पर पार्टी की गतिविध शुरू हो गई है। हरीश रावत इस समय भी चंडीगढ़ में हैं। चंडीगढ़ की गतिविधि के लिए वह निरंतर पूर्व केंद्रीय मंत्री पवन बंसल और कांग्रेस अध्यक्ष प्रदीप छाबड़ा के संपर्क में है।मंगलवार दोपहर को भी जो कांग्रेस की ओर से पानी के रेट्स पर नगर निगम के बाहर प्रदर्शन किया था उस पर भी रावत की पूरी नजर थी।

कांग्रेस अध्यक्ष प्रदीप छाबड़ा का कहना है कि मंगलवार को कांग्रेस के पार्षद तो सदन की बैठक के लिए वर्चुअल शामिल हुए लेकिन भाजपा के अपने पार्षदों ने ही अपनी मेयर का बहिष्कार किया। उनका कहना है कि भाजपा की आपसी राजनीति और गुटबाजी का शहर को नुकसान हो रहा है। उनका कहना है कि प्रशासन को नगर निगम भंग करके नए सिरे से चुनाव करवाना चाहना चाहिए।

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!