जागरण संवाददाता, चंडीगढ़ : शहर में चल रहे अवैध पेइंग गेस्ट पर प्रशासन ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। डीसी मनदीप सिंह बराड़ ने बताया एक दिन में एस्टेट ऑफिस के टोल फ्री नंबर पर अवैध पेइंग गेस्ट के खिलाफ कुल 18 शिकायतें आई। इन शिकायतों पर एस्टेट ऑफिस के एनफोर्समेंट विग और एरिया एसडीएम ने तत्काल कार्रवाई की। इन सभी 18 अवैध पेइंग गेस्ट को एस्टेट ऑफिस की ओर से बिल्डिंग वॉयलेशन के नोटिस दिए गए। साथ ही इन सभी 18 पेइंग गेस्ट के प्रॉपर्टी मालिक को नोटिस देकर एक हफ्ते के अंदर जवाब देने के लिए कहा गया है। इसके अलावा इन पेइंग गेस्ट में बिल्डिंग वॉयलेशन को दूर करने, पीजी की रजिस्ट्रेशन कराने और फायर एनओसी लेने के लिए कहा गया है। इस हेल्पलाइन नंबर-1860-1802067 पर करें शिकायत

एस्टेट ऑफिस ने शहर में चल रहे अवैध पेइंग गेस्ट की शिकायत को लेकर हेल्पलाइन नंबर-1860-1802067 जारी किया है। ताकि शहर का कोई भी रेजिडेंट इस हेल्पलाइन नंबर पर कॉल कर अवैध पेइंग गेस्ट के खिलाफ सूचना दे सके। इस हेल्पलाइन को लोगों की तरफ से अच्छा रिस्पांस मिल रहा है। एक दिन के अंदर हेल्पलाइन नंबर पर 18 शिकायतें दर्ज की गई हैं। टेनेंट्स और पेइंग गेस्ट जल्द कराएं पुलिस वेरीफिकेशन

डीसी मनदीप सिंह बराड़ ने कहा कि उन्होंने चंडीगढ़ पुलिस एसएसपी को शहर के सभी टेनेंट्स और पेइंग गेस्ट को पुलिस वेरिफिकेशन कराने के लिए कहा है। ऐसा न करने पर डीसी ने एसएसपी को मकान मालिक और पीजी के मालिक के खिलाफ केस दर्ज कर कार्रवाई करने के लिए कहा है। डीसी ने बताया कि एसएसपी को निर्देश दिए हैं कि वह शहर के सभी एसएचओ और पुलिस थाना इंचार्ज को अपने एरिया में टेनेंट्स और पेइंग गेस्ट की पुलिस वेरिफिकेशन कराएं। अगर कोई बिना पुलिस वेरिफिकेशन के पाया जाता है। उस पर तत्काल कार्रवाई की जाए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!