जागरण संवाददाता, मोहाली : ओकरेज इंटरनेशनल स्कूल की 12वी की छात्रा जसकीरत कौर लगातार जरूरतमंदों के लिए धन इकट्ठा कर उन्हें पहुंचा रही है। जसकीरत की इस पहल में उसकी मदद 'हैबीटाइट फार ह्यूमेनिटी' अंतरराष्ट्रीय एनजीओ कर रही है। जसकीरत ने बताया कि मार्च, 2020 में जब कोविड के चलते उनके स्कूल बंद हुए तो मीडिया से कोरोना से लगातार गरीबों पर पड़ रहे प्रभाव का पता चला। जिसके चलते उसने परिवार की मदद से एनजीओ का हिस्सा बनते हुए अपने आस-पास और परिवार से धनराशि इकट्ठी करनी शुरू कर दी। पिछले साल कोरोना की पहली लहर के दौरान लाखों रुपये इकठ्ठा करके एनजीओ को दिए। संस्था ने आर्थिक सहायता, खाना या दूसरी और सहायता से जरूरतमंदों की मदद की। अब जबकि कोरोना की दूसरी लहर और भी भयानक रूप लेकर आई है, जिससे लोगों को खाने, आर्थिक सहायता के साथ-साथ, अब आक्सीजन के सिलेंडरों की भी बड़े स्तर पर जरूरत महसूस की जा रही है। ऐसे समय में जसकीरत ने एक नया तरीका खोजते हुए दो से तीन घंटों की ऑनलाइन वर्कशॉप का आयोजन करना शुरू कर दिया है। जीवन जीने की कला और जिंदगी को बेहतरीन बनाने के तरीके पर आधारित इस तीन घंटों की वर्कशाप में जसकीरत कौर के साथ उसके पिता भी उसकी मदद कर रहे हैं। इस ऑनलाइन वर्कशाप के वह दो हजार रुपये चार्ज कर रही है, यह संपूर्ण राशि सबंधित एनजीओ को दी जा रही है, जोकि आगे जरूरतमंदों तक पहुंचायी जा रही है। प्रिसिपल रमनजीत घुमाण ने जसकीरत कौर के किए जा रहे इस उपक्रम की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि अब तक 93 हजार के करीब राशि इकट्ठी की जा चुकी है।

Edited By: Jagran