जागरण संवाददाता, चंडीगढ़ : कोरोना वायरस लगातार प्रभाव बढ़ाता जा रहा है। वीरवार को 10 महीने की बच्ची और उसकी 59 वर्षीय दादी में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। यह दोनों ही गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल-32 में एडमिट हैं। सेक्टर-33 निवासी बच्ची और दादी को उनके स्वजनों से ही कोरोना संक्रमण हुआ। 13 मार्च को कनाडा से सेक्टर-33 निवासी एनआरआइ कपल चंडीगढ़ लौटा था। यह कपल बच्ची के माता पिता ही हैं। बताया जा रहा है कि एनआरआई कपल ने लौटने के बाद 14 दिन के होम क्वारंटाइन का भी पालन नहीं किया। इसके बाद 28 मार्च को दोनों जीएमसीएचब में एडमिट हुए। इन दोनों में भी कोरोना संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। चंडीगढ़ का यह पहला मामला है जो इतनी छोटी बच्ची में कोरोना संक्रमण का मामला आया है। एनआरआइ कपल में कोरोना की पुष्टि होने के बाद प्रशासन ने सेक्टर-33 में 21 लोगों को होम क्वारंटाइन किया था। इनमें बच्ची और उसकी दादी भी एक थी। अब अगर और में लक्षण मिलते हैं तो उनके भी टेस्ट किए जाएंगे। हालांकि पड़ोस के तीन लोगों को भी आइसोलेशन वॉर्ड में दाखिल कराया गया है। उनके सैंपल टेस्ट के लिए भेजे गए हैं। इनमें भी कोरोना संक्रमण होने की संभावना जताई जा रही है। कोरोना पॉजिटिव की संख्या बढ़कर हुई 18

बच्ची और दादी की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 18 हो गई है। अभी तक 124 टेस्ट किए गए हैं। इनमें से 98 सैंपल की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। जबकि 18 पॉजिटिव आए हैं। एक सैंपल को रिजेक्ट किया गया है। अभी तक किसी भी पॉजिटिव केस को हॉस्पिटल से डिस्चार्ज नहीं किया गया है। चंडीगढ़ के किसी पेशेंट की कोरोना से मौत नहीं हुई है। जो मौत हुई है वह पंजाब और हरियाणा के पेशेंट की हुई है। सात पेशेंट के सैंपल की रिपोर्ट अभी आनी बाकी है। गांव फैदां से कोरोना के 40 से ज्यादा संदिग्ध मरीजों को सेक्टर 47 के जंजघर में क्वारंटाइन किया हुआ है। पुलिस और हेल्थ डिपार्टमेंट की टीम इनकी देखरेख कर रही है। पुलिस बाहर पहरा भी दे रही है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!