जागरण संवाददाता, चंडीगढ़ :

सेक्टर -52 स्थित पक्की कॉलोनी के मकान में 10 लाख रुपये की लूट का मामला सामने आया है। पीड़ित परिवार के मुताबिक दोपहर तीन बजे के करीब तीन व्यक्ति उनके घर में इनकम टैक्स ऑफिसर बनकर दाखिल हुए और पुछताछ करने लगे। जैसे ही पीड़ित की पत्नी पानी लेने के लिए किचन की तरफ गई, उनमें से एक व्यक्ति ने घर में मौजूद बच्चे की गर्दन पर चाकू रखकर रकम और ज्वैलरी देने की मांग करने लगा।

शंकुतला देवी ने बताया कि इस दौरान वह इतनी डर गई कि उसे कुछ भी समझ नहीं आ रहा था। डर के मारे उसने घर में रखे 10 लाख रुपये और अपने लाखों के गहने सौंप दिए। इसके बाद यह तीनों बदमाश वहां फरार हो गए। मामले की सूचना मिलते ही एएसपी साउथ निहारिका भंट्ट ,सेक्टर -36 थाना पुलिस सहित संबंधित चौकी पुलिस मौके पर पहुंची।

उधर, पुलिस ने पीड़ित पक्ष के बयान दर्ज करने के बाद मामला ठगी का बताया है। व्यक्ति पप्पू और उनकी पत्नी शंकुतला और सेक्टर -52 स्थित पक्की कॉलोनी में फ‌र्स्ट फ्लोर पर रहते है। उन्होंने बताया कि 10 लाख रूपये उन्होंने जमीन खरीदने के लिए रखा हुए थे। बार -बार बयान बदल रहा है पीड़ित परिवार

पुलिस के अनुसार पीड़ित पक्ष रकम को लेकर बार -बार अपने बयान बदल रहा है। वे कभी तीन लाख, कभी पांच लाख और कभी 10 लाख रुपये की रकम बता रहे हैं। हालांकि पुलिस पैसे कहां से आए और वारदात किस तरह से हुई है,इसकी जांच में लगी है। पुलिस का दावा है कि मामला ठगी का है। सीसीटीवी में नहीं रिकार्ड हो सकी फुटेज

वारदात वाले घर के सामने स्थित मकान पर सीसीटीवी कैमरा लगा हुआ है, लेकिन कैमरे का मुंह दूसरी तरफ होने के कारण वारदात कैमरे में कैद नहीं हो पाई। पुलिस देर रात तक आस पास के कैमरे भी खंगाल रही थी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!