जागरण संवाददाता, बठिडा: बठिडा डेवलपमेंट अथारिटी (बीडीए) की ओर से सड़क को चौड़ा करने के लिए डाली गई एन्हांसमेंट के विरोध में माडल टाउन फेस चार व पांच के वासियों ने शनिवार सुबह गुरुद्वारा साहिब के निकट रोड पर धरना लगाकर ट्रैफिक जाम कर दिया। लोग माडल टाउन, ग्रीन सिटी आदि विभिन्न कालोनियों को जाने वाली सड़क के दोनों ओर रस्सियां बांधकर धरने पर बैठ गए और बीडीए के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। करीब तीन घंटे धरना देने पर भी जब कोई अधिकारी उनकी बात सुनने नहीं आया तो उन्होंने चेतावनी दी कि वे नेशनल हाईवे जाम कर देंगे। इसके बाद नायब तहसीलदार अवतार सिंह चट्ठा उनसे मांग पत्र लेने पहुंचे। नायब तहसीलदार ने भी माना कि यह सड़क सार्वजनिक है। इसलिए वह उनकी मांग को डीसी के माध्यम से उच्चाधिकारियों तक पहुंचा देंगे। इसके बाद लोगों ने धरना हटाया। साथ ही चेतावनी दी कि अगर एन्हांसमेंट को रद नहीं किया तो वे संघर्ष तेज करेंगे।

माडल टाउन निवासियों ने बताया कि यह रोड पहले 30 फीट थी, जिसे बाद में 100 फीट किया गया। यह सड़क पूरी तरह से सार्वजनिक है, लेकिन इसे चौड़ा किए जाने के लिए माडल टाउन वासियों को 3000 हजार रुपये प्रति गज के हिसाब से एन्हांसमेंट डाल दी गई है। इसका वह वर्ष 2017 से विरोध कर रहे हैं। साथ ही यह रोड केवल उनके माडल टाउन फेस चार व पांच को नहीं जाती, बल्कि ग्रीन सिटी, पार्क पेनोरमा, टीचर कालोनी सहित विभिन्न कालोनियों को जाती है। इस रोड पर तीन बड़े मेरिज पैलेस हैं। इसलिए यह रोड कामर्शियल है, जिस कारण उनसे एन्हांसमेट लेना उनके साथ बेइंसाफी है। इस बेइंसाफी को लेकर वे 2017 में तत्कालीन सचिव विनी महाजन को भी चंडीगढ़ में मिले थे, जिस पर उन्होंने सहमति जताई थी। इसके अलावा वित्तमंत्री मनप्रीत बादल भी उनके साथ सहमति जता चुके हैं, लेकिन इसके बावजूद बीडीए की ओर से उन्हें नोटिस भेजकर परेशान किया जा रहा है कि अगर उन्होंने इसकी अदायगी न की तो 18 फीसद ब्याज भी वसूल किया जाएगा। इस मौके पर एन्हांसमेंट विरोधी एक्शन कमेटी के प्रधान चरनजीत सिंह, अमनदीप सिंह सेखों, एडवोकेट राजिदर सिंह सुखलद्धी, चरनजीत सिंह, यादविदर सिंह, राजेश कुमार, नरेश बांसल आदि मौजूद थे।

Edited By: Jagran