जासं, बठिडा : पंजाब यूटी मुलाजिम व पेंशनर्स सांझा फ्रंट की ओर से डीसी दफ्तर के आगे शुरू किया गया प्रदर्शन दूसरे दिन भी जारी रहा। इस दौरान दूसरे दिन भी 11 साथी भूख हड़ताल पर बैठे रहे। जबकि प्रदर्शन के समय मुलाजिमों ने मांग की कि पंजाब के छठे पे कमिशन को केंद्र से अलग कर रिपोर्ट दी जाए, हर विभाग के कच्चे मुलाजिमों को पक्का किया जाए, डीए की किश्तें व बकाए तुरंत जारी किए जाएं, 1-1-2004 से पुरानी पेंशन स्कीम बहाल की जाए, थर्मल प्लाटों को बंद करने का फैसला वापिस लिया जाए, 200 रुपये विकास टैक्स वापिस लिया जाए, मोबाइल भत्ता बहाल किया जाए, मुलाजिम विरोधी काले कानून वापिस लिए जाएं, खाली पड़े पदों को हर विभाग में पूरा किया जाए। इस दौरान यूनियन सदस्यों ने ऐलान किया कि उनके द्वारा अब 30 सितंबर तक रोजाना भूख हड़ताल की जाएगी, जिसमें 11-11 साथी प्रदर्शन करेंगे। अगर फिर भी सरकार ने उनकी मांगों को पूरा नहीं किया तो वह 16 अक्टूबर को जेल भरो आंदोलन करेंगे। इस मौके पर हंस राज बीजवा, जीतराम कोटड़ा, मनजीत सिंह पंजू, एसएस यादव, जगराज सिंह, राज कुमार, बलजीत सिंह बराड़, बलदेव सिंह, महेश कुमार, मोहन लाल, राजा सिंह आदि उपस्थित थे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!