जासं, बठिडा : बुधवार को सीआइए टीम की तरफ से रेलवे स्टेशन के पास की गई नाकाबंदी के दौरान गिरफ्तार किए गए कार सवार दो गैंगस्टरों की कोरोना रिपोर्ट पाजिटिव मिली है। इन लोगों को गिरफ्तार कर उनके पास से 315 बोर का पिस्तौल व छह कारतूस व एक 32 बोर का पिस्तौल व छह कारतूस बरामद किए गए थे। इसके अलावा गांव लहराखाना में हुए हत्याकांड संबंधी पूछताछ करने के लिए पुलिस प्रोडेक्शन वारंट पर लाए गए गैंगस्टर फतेह नागरी की रिपोर्ट भी कोरोना पाजिटिव मिली है। इस मामले में चिता की बात यह है कि पुलिस की तरफ से आरोपितों को गिरफ्तार करने के बाद कोरोना टेस्ट करवाया गया। जिनकी रिपोर्ट पाजिटिव आई। नियमानुसार किसी कोविड संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए लोगों को आइसोलेट करना लाजमी होता है व संपर्क में आए लोगों की भी कोरोना जांच की जाती है। फिलहाल इस मामले में सीआइए पुलिस टीम के साथ सीआइए टू ने भी आरोपित लोगों से पूछताछ की थी व इन लोगों के संपर्क में पुलिस के अधिकतर कर्मी व अधिकारी आए, लेकिन मामले के पांच दिन बीत जाने के बावजूद संक्रमित अपराधियों के संपर्क में आए पुलिस कर्मियों को होम आइसोलेशन में नहीं रखा गया है। इस स्थिति में उक्त पुलिस कर्मियों के लगातार ड्यूटी पर रहने व संक्रमित होने की स्थिति में सेल में आने वाले दूसरे लोग भी कोरोना पाजिटिव हो सकते हैं। हालांकि इस मामले में एसएसपी बठिडा अमनीत कौडल का कहना है कि वह इस बाबत संबंधित अधिकारियों से रिपोर्ट तलब करेंगे व संक्रमित लोगों के संपर्क में आए कर्मियों को होन आइसोलेशन में भेजने की हिदायत देंगे।

Edited By: Jagran