जागरण संवाददाता, बठिडा: एसएसडी स्कूल में जिला योजना बोर्ड के नवनियुक्त चेयरमैन राजन गर्ग के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पहुंचे वित्तमंत्री मनप्रीत सिंह बादल का घेराव करने जा रहे विभिन्न विभागों के ठेका कर्मचारियों को शनिवार दोपहर पुलिस ने हनुमान चौक पर बैरिकेड लगाकर रोक लिया। गुस्साए मुलाजिम वहीं धरना लगाकर बैठ गए और आगे जाने की जिद करने लगे। इस दौरान पुलिस मुलाजिमों और ठेका कर्मचारियों में झड़प हो गई। इसके बाद पुलिस ने तीन दर्जन ठेका मुलाजिमों को हिरासत में ले लिया और थाना सिविल लाइन ले गई।

इसके बाद ठेका मुलाजिम संघर्ष मोर्चा के प्रांतीय नेता जगसीर सिंह भंगू की अगुआई में सभी मुलाजिम थाना सिविल लाइन पहुंच गए और वहां धरना लगा दिया। इतना ही नहीं हिरासत में लिए गए जगरूप सिंह लहरा मोहब्बत, वरिदर सिंह, गुरविदर सिंह पन्नू आदि की अगुआई में थाने के अंदर धरना लगा दिया गया। ठेका मुलाजिम तीन बजे तक धरने पर बैठे रहे। आखिरकार तीन बजे पुलिस ने सभी को रिहा किया और धरना उठवाया। वित्त मंत्री पक्का न करने की जिद पर अड़े: भंगू ठेका मुलाजिम संघर्ष मोर्चा के नेता भंगू ने कहा कि ठेका मुलाजिम लंबे समय से पक्का करने की मांग को लेकर संघर्ष कर रहे हैं, लेकिन राज्य सरकार उनकी कोई सुनवाई नहीं कर रही है। इसके चलते ही उन्हें कड़े संघर्ष के लिए मजबूर होना पड़ा है। वह राज्य सरकार की ओर से गठित की गई सब कमेटी, जिसमें वित्तमंत्री मनप्रीत सिंह बादल, तृप्त राजिदर सिंह बाजवा व चरनजीत सिंह चन्नी शामिल हैं, के साथ भी मीटिंग कर चुके हैं। सब कमेटी के दोनों सदस्य उन्हें पक्का करने के लिए राजी हैं, लेकिन वित्तमंत्री मनप्रीत बादल अड़े हुए हैं। जब तक ठेका कर्मचारियों को स्थायी नहीं किया जाता, उनका राज्य सरकार और वित्तमंत्री मनप्रीत सिंह बादल के खिलाफ इसी तरह कड़ा संघर्ष जारी रहेगा।

Edited By: Jagran