जासं, बठिडा : कारोना वायरस के चलते लोग इन दिनों में पब्लिक ट्रांसपोर्ट में सफर करने से कतरा रहे हैं। जिसके चलते कई राज्यों में लोगों द्वारा अपनी हैसियत के अनुसार सेकेंड हैंड वाहनों को भी खरीदा जा रहा है। मगर बठिडा में जब से क‌र्फ्यू लगा है तब से कार बाजार का काम तो पूरी तरह से ठप हो गया है। लोग सेकेंड हैंड वाहनों को खरीदना तो दूर बल्कि अपने वाहनों को भी बेचने के लिए तैयार हो गए हैं। बाजारों में कोई भी काम न होने के कारण कार डीलर तो अब यह काम छोड़ने को भी बेताब हो रहे हैं। बठिडा में हर माह 5 करोड़ के करीब कारों की सेल परचेज का काम होता है। जबकि यहां पर हर माह 100 कारें खरीदी जाती थी, जिसकी एवरेज पांच लाख रुपये एक की निकलती है। मगर अब यह काम बंद होने से कार डीलरों का कारोबार पूरी तरह से ठप हो चुका है। जबकि किसी समय मित्तल मॉल के पास कारों की देखने वाली मार्केट के अब पूरी तरह से सुनसान हो गई है। इसको लेकर कार डीलर कर्मजीत गिल का कहना है कि उनके हालात ऐसे हैं कि वह यह काम छोड़ने को तैयार हैं। जबकि पिछले 2 महीनों से उनके द्वारा एक सिगल कार को भी नहीं बेचा गया। जिसकी इस समय में सबसे ज्यादा जरूरत है। उनका कहना है कि अगर यही हालात रहे तो आने वाले दिनों में पक्के तौर पर ही यह कारोबार बंद करना पड़ेगा

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!