जागरण संवाददाता, बठिडा : बठिडा में असिस्टेंट कमिश्नर (शिकायतें) के तौर पर अपनी सेवा निभा रही मनिदरजीत कौर ने अब यूपीएससी का एग्जाम भी क्लियर कर लिया है। उन्होंने इसमें 246वां रैंक हासिल किया है। वह बरनाला जिले के गांव शैहना से संबंध रखती हैं। उनके पिता जरनैल सिंह गिल खेती करते हैं तो उनकी माता बेअंत कौर सेहत विभाग में एएनएम हैं। वह जनवरी 2020 से बठिडा में तैनात हैं, जिनकी पहली पोस्टिग भी यहीं पर रही। उन्होंने 2018 में पीसीएस का पेपर दिया था, जिसके बाद ट्रेनिग लेकर अब जनवरी में ज्वाइन किया। हालांकि साल 2019 में यूपीएससी का पेपर दिया, जिसका अब रिजल्ट आया तो वह क्लियर हो गया। वहीं उनके पेपर क्लियर करने के बाद घर व दफ्तर में बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है।

उनका कहना है कि वह अपने एक अध्यापक रजिदर से इंस्पायर हुई, जिन्होंने उनको पहले पीसीएस का पेपर देने के लिए मॉटिवेट किया। जब वह क्लियर हो गया तो उनका हौसला और बढ़ गया, जिसके बाद यूपीएससी का पेपर भी दिया। अब क्लियर होने के बाद उनकी खुशी का कोई ठिकाना नहीं है।

मनिदरजीत ने बताया कि उनके पिता खेती के साथ जुड़े हुए हैं तो उनकी माता सेहत विभाग में अपनी सेवाएं दे रही हैं। उनका छोटा भाई अभी पढ़ाई कर रहा है। उनका कहना है कि उनके ड्यूटी ज्वाइन करने के दो महीने बाद ही कोरोना के कारण क‌र्फ्यू लग गया, जो उनके लिए काफी अच्छा अनुभव रहा। उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि ज्वाइनिग के बाद ऐसे समय में नौकरी करने का मौका मिलेगा। मगर इस समय में उन्होंने काफी कुछ सीखा। लेकिन अब आगे और भी मेहनत करेंगी, ताकि समाज के लिए कुछ किया जा सके। उन्होंने स्कूल की पढ़ाई अपने जिले में ही की है, जिसके बाद आइटी सेक्टर में ज्वाइन किया तो मुंबई में एक कंपनी में नौकरी भी की।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!