संवाद सहयोगी, रामपुरा फूल

क्रांतिकारी ग्रामीण खेत मजदूर यूनियन के प्रांतीय सचिव सुखपाल सिंह ख्यालीवाला, सिकंदर सिंह अजीत गिल, भिदर सिंह सेवेवाला, कुलवंत सिंह सेलबराह तथा दिलबाग सिंह जीरा ने शनिवार को फरीदकोट में धरने पर बैठे एक्शन कमेटी के सदस्यों पर पुलिस द्वारा किए गए लाठीचार्ज की कड़ी निदा की है। उन्होंने कहा कि एक तरफ तो समय की सरकारों द्वारा महिला अधिकारों की रक्षा का ड्रामा किया जा रहा है। वहीं दूसरी ओर फरीदकोट मेडिकल कॉलेज में दु‌र्व्यवहार की शिकार महिला डॉक्टर को इंसाफ दिलाने हेतु गत 22 दिन से धरने पर बैठे एक्शन कमेटी के सदस्यों पर लाठीचार्ज किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि शनिवार को एक्शन कमेटी के सदस्यों पर लाठीचार्ज तथा आंसू गैस के गोले दागने से सरकार का मानवाधिकार विशेषकर महिला अधिकार विरोधी चेहरा नंगा हो गया है। दु‌र्व्यवहार की शिकार महिला डॉक्टर को इंसाफ देने, आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने, लाठीचार्ज की उच्च स्तरीय जांच कर जिम्मेदार पुलिस अधिकारियों पर कानूनी कार्रवाई करने, लाठीचार्ज में घायल हुए लोगों को मुआवजा देने इत्यादि की मांग करते हुए यूनियन के नेताओं ने सभी इंसाफ पसंद लोगों को इस संघर्ष का हिस्सा बनने की अपील की।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!