संवाद सूत्र, रामां मंडी : कोरोना के इस संकट में देश में हाहाकार मची हुई है। वहीं ऐसे में समाज सेवी संस्थाएं लोगों की मदद के लिए सामने आ रही हैं। वहीं कुछ ऐसे भी लोग हैं जो इस महामारी का फायदा उठा रहे हैं। यह कहना गलत न होगा कि देश इतने बड़े संकट से गुजर रहा है और लोगों में इंसानियत खत्म होती जा रही है। सरकारी एंबुलेंस न मिलने के कारण कई लोग मरीजों को घर पहुंचाने के लिए प्राइवेट एंबुलेंस का सहारा ले रहे हैं। निजी एंबुलेंस वाले भी लोगों की मजबूरी का खूब फायदा उठा रहे हैं और मनमाना किराया वसूल रहे हैं। देश के हर हिस्से से ऐसी खबरें सामने आई हैं कि निजी एंबुलेंस वाले 20 हजार से लेकर 40 हजार तक का किराया लोगों से ले रहे हैं। ऐसे में स्थानीय समाजसेवी संस्था हेल्पलाइन वेलफेयर सोसायटी के प्रधान बौबी लहरी ने कोरोना मरीजों को मुफ्त एंबुलेंस मुहैया करवाने की घोषणा की। उन्होंने देश में बढ़ रहे कोरोना मरीजों की संख्या पर चिता व्यक्त करते हुए उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना की। उन्होंने कहा कि इस मुश्किल घड़ी में हेल्पलाइन वेलफेयर सोसायटी स्थानीय लोगों की मदद के लिए चौबीसों घंटे हाजिर है। उन्होंने बताया की कोरोना मरीजों को अस्पताल पहुंचाने के लिए हेल्प लाइन वेलफेयर सोसायटी की चार एंबुलेंस हर समय लोगों की सेवा के लिए तैयार है इसके अलावा अगर किसी मरीज की कोरोना के कारण मौत होती है तो मृतक व्यक्ति के परिजन हेल्प लाइन वेलफेयर सोसायटी से संपर्क कर सकते हैं हेल्पलाइन वेलफेयर सोसायटी द्वारा मृतक कोरोना मरीज के शव को वहां से निश्शुल्क लाकर उस व्यक्ति का संस्कार किया जाएगा।