बठिंडा, [गुरप्रेम लहरी]। केबल ऑपरेटरों ने पंजाब में मनाेरंजन टैक्‍स लागू हाेने के पहले ही इसकी वसूली शुरू कर दी है। वह भी सरकार द्वारा तय दर से 10 गुना। पंजाब सरकार ने अभी तक प्रदेश में केबल व डीटीएच पर मनोरंजन टैक्स का नोटिफिकेशन जारी नहीं किया है। यह नोटिफिकेशन के बाद ही लागू होगा। केबल ऑपरेटर दो रुपये की जगह प्रति कनेक्‍शन 20 रुपये वसूल रहे हैं।

पिछले 21 दिसंबर को मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में केबल टीवी और डीटरएच मनोरंजन पर टैक्‍स लगने का फैसला किया गया था। इसके लिए द पंजाब एंटरटेनमेंट एंड एम्यूजमेंट टैक्सेज ऑर्डिनेंस 2017 लाया गया थ्‍ाा।  इसके तहत डीटीएच पर प्रति कनेक्‍शन पांच रुपये और प्रति केबल कनेक्शन दो रुपये मनोरंजन कर लगाया गया है।

यह भी पढ़ें: हरियाणवी गायिका को धमकी, स्टेज पर गई तो कपड़े फाड़ दूंगा

कैबिनेट ने मंजूरी के बाद इसकी अधिसूचना अभी जारी की जानी है। इसके बावजूद सरकार को ठेंगा दिखाते हुए केबल माफिया ने मनोरंजन टैक्‍स की वसूली शुरू कर दी। केबल ऑपरेटर मनोरंजन टैक्स की तय दर से 10 गुनी राशि मनारंजन कर के रूप में ले रहे हैं। बठिंडा में केबल ऑपरेटर उपभोक्‍ताओं से प्रति कनेक्‍शन दो रुपये की जगह 20 रुपये वसूल रहे हैं। वे इसके लिए रसीद भी दे रहे हैं।

दो कनेक्‍शनों के लिए टैक्‍स के रूप में 40 रुपये मांगे

बठिंडा के जुझार सिंह नगर के जगतार टिवाणा ने बताया कि बुधवार को केबल ऑपरेटर बिल लेने आया और उनके घर पर दो एलसीडी होने के चलते 530 रुपये की मांग की। पहले उनसे 490 रुपये वसूल किए जाते थे। पैसे लेने आए केबल कंपनी के कर्मचारी से 40 रुपये ज्‍यादा लेने के बारे में पूछा तो उसने कहा कि सरकार की ओर से मनोरंजन टैक्स लगाया गया है। यह कहने पर कि मनोरंजन टैक्स तो अभी लागू ही नहीं हुआ आैर टैक्‍स तो दो रुपये प्रति कनेक्‍शन है तो कर्मचारी कोई जवाब नहीं दे पाया।

यह भी पढ़ें: महिला का था किसी अौर से अवैध रिश्‍ता, पति बाधक बना ताे किया बुरा हाल

पंजाब में 44 लाख कनेक्शन

पंजाब के केबल 44 लाख केबल कनेक्शन हैं। ऐसे में लोगों से आठ करोड़ रुपये से अधिक की राशि प्रति माह वसूली जा रही है। नोटिफिकेशन जारी होने से भी सिर्फ 88 लाख प्रति माह ही केबलधारकों पर बोझ पड़ना था, पर केबल माफिया ने 18 से 20 रुपये प्रति कनेक्शन मनोरंजन टैक्स की वसूली शुरू कर दी।

सिद्धू कहते थे केबल माफिया का करेंगे खात्मा

पंजाब के स्‍थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने पद संभालने के बाद पंजाब में केबल माफिया के खात्मे के दावे किए थे। सिद्धू ने कहा था कि वह केबल कारोबार में एकाधिकार का खात्मा करेंगे। वहीं, सीएम ने साफ कर दिया था कि बदले की भावना से किसी पर कार्रवाई नहीं की जाएगी। सिद्धू ने ही केबल व डीटीएच पर टैक्स लगाने की योजना बनाई, ताकि इसे सरकारी तंत्र की निगरानी में लाया जा सके। लेकिन, अब ऐसा होता नहीं दिख रहा है।

-------

'' हमें नहीं पता कि मनोरंजन टैक्स लागू हुआ है या नहीं। हमें तो ऊपर से कहा गया है कि 20 रुपये प्रति कनेक्शन ज्‍यादा वसूल करने हैं। अगर कोई पूछे तो कहना कि मनोरंजन टैक्स लागू हो गया है। आप फास्टवे के पवन चावला से बात करें।

                                                                                                - दुपिंद्र सिंह,संचालक, दुपिंदरा केबल।

 -------

'' मैं इसके बारे में कुछ नहीं बता सकता। आप मेरे बॉस के साथ लुधियाना बात करें।

                                                                                             - पवन चावला, मैनेजर, बठिंडा फास्टवे।

-----

'' पता नहीं आपको ऐसी बातें कौन बता देता है। आप बठिंडा दफ्तर में ही बात करें।

                                                                                                  - विशाल सभरवाल,जीएम,फास्टवे।

यह भी पढ़ें: पंजाब की मॉडल निशा ज्‍योति का सिर प्रेमी ने धड़ से अलग, दूसरे से बना लिया था संबंध

 

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!