जागरण संवाददाता, बठिडा: गिरते जलस्तर को बढ़ाने के लिए पंजाब सरकार इस बार किसानों को धान की सीधी बिजाई के लिए प्रोत्साहित कर रही है। इसी के तहत डीसी शौकत अहमद परे ने मंगलवार को गांव बीड़ बहमन में ट्रैक्टर चलाकर धान की सीधी बिजाई की शुरूआत कर किसारनों को प्रेरित किया।

डीसी ने किसानों से बातचीत करते हुए उन्हें राज्य सरकार द्वारा सीधी बिजाई के लिए घोषित 1500 रुपये प्रति एकड़ का अधिकतम लाभ उठाने को भी कहा। वहीं मुख्य कृषि अधिकारी डा. पाखर सिंह ने कहा कि गत वर्ष जिले में 21 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में सीधी बिजाई की गई थी, जो इस वर्ष दोगुने से अधिक 50 हजार हेक्टेयर होने की उम्मीद है। डा. पाखर सिंह ने कहा कि सीधी बिजाई से जहां 10-20 प्रतिशत पानी की बचत होती है, वहीं लागत भी कम होती है और किसानों की आय भी बढ़ती है। ब्लाक कृषि अधिकारी डा. जगदीश सिंह ने सीधी बिजाई की तकनीक आदि की जानकारी दी। डा. जगदीश सिंह ने उर्वरक व सीधी बिजाई में दैनिक प्रबंधन में 21 दिन तक पहली सिचाई के महत्व से अवगत कराया। उधर, मानसा शहर वासियों को ट्रैफिक समस्या से निजात दिलाने व यातायात को सुचारू रूप से चलाने के उद्देश्य से डीसी जसप्रीत सिंह व एसएसपी गौरव तूरा ने पुरानी अनाज मंडी व गुरुद्वारा चौक के बाजार का दौरा किया।

डीसी जसप्रीत सिंह ने बाजार के पास पुरानी अनाज मंडी में अवैध निर्माण करने वाले लोगों को अपनी हद में निर्माण करने के आदेश दिए। उन्होंने कहा कि दुकानदारों द्वारा अवैध रूप में किए गए कब्जों के कारण ट्रैफिक जाम होता है व सड़क हादसे होने का डर बना रहता है। शहर में किसी व्यक्ति को अवैध कब्जा करने की इजाजत नहीं दी जाएगी। पुरानी अनाज मंडी के आसपास पार्किंग बनाने की योजना है ताकि बाजार में आने वाले लोग यहां अपने वाहन को खड़ा कर सकें।

Edited By: Jagran