जासं,बठिडा: अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शीर्ष शिक्षण संस्थानों की सूची में भारत का प्रतिनिधित्व करने की अपनी आकांक्षाओं को पूरा करते हुए पंजाब केन्द्रीय विश्वविद्यालय, बठिडा (सीयूपीबी) ने 'वेबमेट्रिक्स रैंकिग ऑफ व‌र्ल्ड यूनिवर्सिटीज' में दुनिया भर के शीर्ष 10 फीसद उच्च शिक्षा संस्थानों (एचइआइ) में अपनी पहचान बनाकर एक और मील का पत्थर हासिल किया है। इसके तहत सीयूपीबी ने उपरोक्त रैंकिग में दुनिया भर के 200 से अधिक देशों से सूचीबद्ध 31,000 से अधिक उच्च शैक्षणिक संस्थानों में 2983वां रैंक प्राप्त किया है।

रैंकिग वेब ऑफयूनिवर्सिटीज साइबरमेट्रिक्स लैब की एक पहल है, जो स्पेन का सबसे बड़ा सार्वजनिक अनुसंधान निकाय है। रैंकिग वेब या वेबमेट्रिक्स सबसे बड़ी शैक्षणिक रैंकिग है जो उपस्थिति, दृश्यता, पारदर्शिता और उत्कृष्टता पैरामीटर के आधार पर दुनिया भर के शैक्षणिक संस्थानों का मूल्यांकन करती है। वेबमेट्रिक्स रैंकिग ऑफ व‌र्ल्ड यूनिवर्सिटीज के अनुसार सीयूपीबी को भारत के 5281 एचइआइ में 135वां रैंक, दक्षिण एशिया के 5916 एचइआइ में 182वां रैंक, ब्रिक्स देशों (ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका) के 10319 एचइआइ में 548वां रैंक, महाद्वीपीय स्तर पर 14,356 एचइआइ में 785वां रैंक, मध्य पूर्व सहित एशिया के 15,815 एचइआइ में 1031वां रैंक और यूरेशिया (यूरोप और एशिया) के 21440 एचइआइ में 2053वां रैंक प्राप्त किया है।

कुलपति प्रो. राघवेन्द्र प्रसाद तिवारी ने सीयूपीबी परिवार को इस उपलब्धि पर बधाई दी। उन्होंने कहा कि इस रैंकिग के परिणामों ने हमें कड़ा परिश्रम करने और उत्कृष्टता की ओर बढ़ने के लिए प्रेरित किया। साथ ही कहा कि विवि में विद्यार्थियों को उच्च शिक्षा देने के लिए कई प्रयास आगे भी किए जाते रहेंगे।

Edited By: Jagran