जासं,बठिडा: दशहरे के उपलक्ष्य में द मिलेनियम स्कूल बठिडा के प्रांगण में बाल रामलीला का आयोजन किया गया। राम, सीता, लक्ष्मण, हनुमान और रावण के रूप में अभिनय कर नन्हे बच्चों ने सबका मन मोह लिया। स्कूल की प्रधानाचार्या संगीता सक्सेना ने सभी को दशहरे की बधाई दी। हनुमान और सुग्रीव से हुआ प्रभु राम का मिलन श्री राम नाटक क्लब व सुभाष ड्रामाटिक क्लब के मंच से रामलीला मंचन में बाली वध के सीन पेश किए गए। श्री राम नाटक क्लब की 9वीं नाइट का उद्घाटन समाजसेवी वीणू सिगला ने किया। इसके बाद पंचवटी व रावन द्वारा सीता हरण का सीन पेश किया गया। इसके अगले सीन में राम द्वारा सीता की तलाश करना व राम लक्ष्मण का हनुमान व महाराज सुग्रीव से मिलना का मंचन किया गया। इस दौरान क्लब के कलाकार रोहित भारती, अजय टीटू, प्रवीन पीपी, लक्की धीर, नवी जिदल, छोटा बच्चा किशू, रियान, साहिल धीर, जीवन मीरपुरिया, अमर पीपी, गजिदर, नवी, कृष्ण पप्पी, बिट्टू शर्मा, तरसेम कदू, जोगिदर अग्रवाल, सुभाष काकडा, कामरेड रिषी, मास्टर राजेश, सतीश धीर ने अपनी अपनी भूमिका बाखुबी निभाई।

सीता और लक्ष्मण संग वन को गए प्रभु श्रीराम नवभारत कला मंच रामपुरा फूल की तरफ से गीता भवन में चल रही रामलीला की पांचवीं नाइट का उद्घाटन प्रसिद्ध भजन गायक नवजोत सितारा ने किया। इस मौके पर रक्तदानी मनोहर सिंह विशेष मेहमान के रूप में शामिल हुए। रामलीला की पांचवीं नाइट पर सीता और लक्ष्ण के साथ प्रभु श्रीराम का वनवास के लिए जाने, दशरथ मृत्यु तथा भारत मिलाप का मंचन किया गया। मुख्य मेहमान नवजोत सितारा ने अपने भजन 'आज्ञा नहीं है मां मुझे किसी और काम की' गाकर पंडाल में बैठे लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया। इस मौके मंच के सुरेंद्र धीर, सुखमंदर कलसी, अजीत अग्रवाल, डाक्टर रवि सिगला, सतपाल शर्मा, संजीव गर्ग, सुभाष पेंटर, दीनानाथ इत्यादि भी उपस्थित थे।

Edited By: Jagran