जेएनएन, चंडीगढ़। शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने कहा है कि पंजाब के पानी से कोई समझौता नहीं किया गया है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह एसआइएल के मुद्दे पर हरियाणा के साथ किसी भी प्रकार का समझौता करने पर सहमत न हो। एसवाइएल के मुद्दे पर कोई भी सौदेबाजी जाल में फंसने जैसा है।

सुखबीर बादल ने कहा कि कैप्टन को पिछली गलतियों से सबक लेना चाहिए। मुख्यमंत्री को तुरंत यह घोषणा करनी चाहिए कि न तो एसवाइएल नहर का निर्माण होगा और न ही हरियाणा को पानी दिया जाएगा। पंजाब सरकार को पंजाब के किसानों को एक स्पष्ट संदेश भेजने की जरूरत है कि उनकी बहुमूल्य नदी के पानी को दूर करने के लिए कोई बातचीत नहीं हो सकती। यही नहीं बातचीत की मेज पर पहुंचने के लिए भी राज्य के हितों को बेचने के समान होगा। बादल ने कहा कि इस मुद्दे पर हरियाणा के साथ चर्चा भी नहीं की जा सकती।

यह भी पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट ने एसवाइएल मामले के हल के लिए केंद्र को दिया छह सप्‍ताह का समय

शिअद के अध्यक्ष ने कहा कि पंजाब सरकार को यह समझना चाहिए कि राज्य के नदी के जल के अधिकार का कोई अधिकार नहीं है। कैप्टन अमरिंदर सिंह पहले ही यह कहते हुए गलती कर चुके हैं कि वह एसवाइएल मुद्दे पर हरियाणा के साथ वार्ता करने के लिए तैयार हैं।

उन्‍हाेंने कहा कि मुख्यमंत्री को यह जानना चाहिए कि पंजाब क्षेत्र में कोई एसईएल मौजूद नहीं है। पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने किसानों को वापस किसानों के लिए प्राप्त भूमि वापस कर दी है। ऐसी स्थिति में जब जमीन पर कोई नहर है ही नहीं तो हरियाणा के साथ इस मुद्दे पर कोई बातचीत नहीं हो सकती है।

यह भी पढ़ें: नवजोत सिद्धू बोले, काले पन्नों में दर्ज होगा बादल परिवार का नाम

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!