जागरण संवाददाता, बठिडा

राज्य सरकार की ओर से विधायकों के बेटों को दी गई नोकरियों के विरोध में भाजपा युवा मोर्चा द्वारा अनोखे ढंग से प्रदर्शन करते हुए लड्डू बांटकर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिदर सिंह के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया गया। युवा मोर्चा के प्रदेश सचिव आशुतोष तिवाड़ी व जिलाध्यक्ष संदीप अग्रवाल की अगुआई में हुए रोष प्रदर्शन में नौजवानों द्वारा कैप्टन सरकार से नौकरियों के हिसाब मांगते हुए फायर ब्रिग्रेड चौक पर तख्तियां पकड़ कर लड्डू बांटे गए। प्रदेश सचिव ने कहा कि कांग्रेस द्वारा पंजाब में बेरोजगारों को नौकरियां देने की बात की गई थी, लेकिन शायद पंजाब के नौजवानों को पता नही था कि की कांग्रेस अपने विधायकों के बेरोजगार बच्चो की बात कर रही थी, जिस पर पंजाबियों ने कैप्टन पर विश्वास कर के धोखा खा लिया। जिलाध्यक्ष संदीप अग्रवाल ने कहा कि कांग्रेस द्वारा नशा खत्म करने और बेरोजगारों को नौकरियों की बात कर सत्ता संभालने वाली कांग्रेस ने स्प्ष्ट कर दिया कि उनकी पार्टी में सिर्फ परिवारवाद को ही पहल दी जाती है। कैप्टन के किये वादे अनुसार नौजवानों को न तो बेरोजगारी भत्ता मिला न ही नौकरियां मिली। इस प्रदर्शन में सचिव सुनील शर्मा, कार्यकरिणी सदस्य प्रदीप गर्ग, लविश सिगल, साहिल सिगला, शुभम पासी आदि भी उपस्थित थे। नौकरी देने के मामले पर पुनर्विचार किया जाए : जस बज्जोआना

यूथ कांग्रेस हलका भुच्चों के प्रधान जसविदर सिंह जस बज्जोआना ने ब्यान जारी करते हुए कहा कि पंजाब सरकार की तरफ से अनुकंपा के आधार पर विधायक राकेश पांडे व फतेहजंग सिंह बाजवा के बेटों को नौकरी देने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री पंजाब कैप्टन अमरिदर सिंह की तरफ से कैबिनेट मीटिग बुलाकर पुनर्विचार किया जाए नहीं तो इस फैसले से लोगों में गलत संदेश जाएगा। उन्होंने कहा कि दोनों विधायकों को इस नौकरी के लिए इंकार कर देना चाहिए।

Edited By: Jagran