फोटो : 12 जाल-204, 204ए

जासं, ब¨ठडा

मौड़ मंडी के गांव रामनगर में मानसिक रूप से कमजोर 14 साल की बच्ची ने गुटका साहिब के कुछ अंग फाड़कर नाली में फेंक दिए। इससे गांव में तनाव का माहौल हो गया। पुलिस और प्रशासन गांव पहुंच गया। पुलिस की जांच में सामने आया कि गांव रामसरा का सुखदेव ¨सह गुटका साहिब का पाठ करके गुटका साहिब वहीं पर रख कर चला गया। उसकी 14 वर्षीय मानसिक रूप से कमजोर पोती ने गुटका साहिब के अंग फाड़कर फेंक दिए। जब इस बात का पता बच्ची की मां का लगा तो उसने डर के कारण गुटका साहिब को चूल्हे में जला दिया। पुलिस का कहना है कि सुखदेव ¨सह ने इस मामले को छिपाने की कोशिश की। इसलिए उस पर कार्रवाई की जाएगी। काबिलेजिक्र है कि बुधवार सुबह 6 बजे मक्खण ¨सह वाली गली में गुटका साहब के अंग बिखरे हुए मिले थे। तलविंदर कौर डेरे में माथा टेकने जा रही थी तो उसने गुटका साहब कुछ अंग गली में बिखरे देखे। उसने ही गांववासियों को इसकी सूचना दी और फिर मौके पर पुलिस और जिला प्रशासन पहुंचा था।

बनती कार्रवाई की जाएगी : आइजी

ब¨ठडा रेंज के आइजी एमएफ फारूखी ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि इस घटना में कोई साजिश नहीं थी। बच्ची नाबालिग है और मानसिक रूप से कमजोर है। उसकी गलती नहीं है। गुटका साहिब के जले व अधजले पन्ने भी बरामद कर लिए गए हैं।

Posted By: Jagran