बठिंडा, [नितिन सिंगला]। यहां केंद्रीय जेल में रविवार को बड़ी वारदात हुई। जेल के हाई सिक्योरिटी सेल में बंद दो गैंगस्टरों ने कुख्यात गैंगस्टर नवदीप सिंह उर्फ चट्ठा पर जानलेवा हमला कर दिया। हमलावरों ने उसके दोनों हाथ-पांव तोड़ दिए। गैंगस्‍टर नवदीप को गंभीर हालत में सिविल अस्‍पताल में दाखिल कराया गया। बाद उसे फरीदकोट मेडिकल कालेज रेफर कर दिया गया।

दो गैंगस्‍टरों ने सेल में घुसकर कर सो रहे गैंगस्टर नवदीप सिंह उर्फ चट्ठा पर हमला किया 

जानकारी के अनुसार, जेल में ही बंद गैंगस्टर राहुल सूद और अजय कुमार गैंगस्‍टर चट्ठा की सेल के लोहे की पत्तारियां तोड़कर अंदर घुस गए हो गए और सेल में सो रहे चट्ठा पर अचानक बोल दिया। शोर-शराबा होने पर जेल में तैनात सीआरपीएफ जवान व जेल सुरक्षा कर्मी दौड़कर वहां पहुंचे और गैंगस्‍टर चट्ठा को हमलावरों से छ़ुड़ाया।

गंभीर रूप से घायल चट्ठा को जेल के अस्पताल में पहुंचाया गया। उसकी हालत गंभीर हाेने के कारण उसे बठिंडा सिविल अस्पताल रेफर कर दिया गया। वहां पर गैंगस्टर चट्ठा की मेडिकल लीगल रिपोर्ट (एमएलआर) बनाकर संबंधित थाना कैंट को भेजी गई। खबर लिखे जाने तक गैंगस्टर ने पुलिस के पास बयान दर्ज करवाने से इंकार कर दिया था, लेकिन थाना कैंट पुलिस ने जेल सुपरिटेंडेंट की तरफ से भेजी गई शिकायत के आधार पर जालंधर निवासी गैंगस्टर राहुल सूद और फरीदकोट निवासी गैंगस्‍टर अजय सिंह के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है।। फिलहाल हमला के कारण के बारे में पता नहीं चल सका है। 

बता दें कि गैंगस्टर नवदीप सिंह चट्ठा के खिलाफ हत्या, लूटपाट, मारपीट के एक दर्जन से ज्यादा मामले दर्ज है। हमला करने वाले गैंगस्टर राहुल सूद व अजय सिंह पर हत्या, मारपीट, लूटपाट समेत कई संगीन मामले दर्ज है। दोनों आरोपितों से जेल में बीती 20 अप्रैल को मोबाइल फोन मिलने पर केस दर्ज हुआ था। इससे पहले भी चार बार इन दोनों गैंगस्टरों से माेबाइल फोन बरामद हो चुके है।

------  

जेल सुपरिटेंडेंट मंजीत सिंह ने बताया कि गैंगस्टर नवदीप सिंह चट्ठा हत्या के मामले में केंद्रीय जेल में सजा काट रहा है। गैंगस्टर राहुल सूद और अजय सिंह भी हत्या समेत कई मामलों में बठिंडा जेल में बंद है। इन सभी गैंगस्टरों को जेल में बनी हाई सिक्याेरिटी सेल में रखा हुआ है। रविवार सुबह सेल खुलने पर तीनों गैंगस्टर चाय नाश्ता करने के बाद अपने-अपने सैल में चले गए।

उन्‍होंने बताया कि गैंगस्टर चट्ठा अपने सैल में जाकर सोया गया, जबकि गैंगस्टर राहुल सूद और अजय कुमार ने सैल में बनी लोहे की खिड़की से लोहे की पत्तरियां तोड़कर चट्ठा के सैल में दाखिल हुए और अचानक सोते हुए चट्ठा पर हमला कर दिया। इस दौरान दोनों गैंगस्टरों ने चट्ठा को गंभीर रूप से घायल कर दिया। चीखने चिल्लाने की आवाज सुनने के बाद सैल के बाहर तैनात सीआरपीएफ व सुरक्षा कर्मियों ने अंदर जाकर उसे बचाया और तुरंत उपचार के लिए जेल अस्पताल में भर्ती करवाया गया। 

गैंगस्टर चट्ठा का इलाज करने वाले डाक्टरों के अनुसार हमला बहुत बुरे तरीके से किया गया है। उसकी दोनों टांगों के अलावा दो हाथों की सात से आठ हडिड्यां तोड़ दी गई हैं। उसके सिर पर भी गहरी चोटे है। इसके चलते गैंगस्टर चट्ठा को इलाज के लिए अब फरीदकोट मेडिकल कालेज के लिए रेफर कर दिया गया है।

-------

हमला करने की सही वजह का नहीं लगा सका पता

जेल सुपरिटेंडेंट मंजीत सिंह का कहना है कि लड़ाई की जानकारी जेल की तरफ से थाना कैंट पुलिस को लिखित रूप में भेज दी गई है। हमला क्यों और किस रंजिश के चलते किया गया है, इसके बारे में घायल गैंगस्टर चट्ठा ही बता सकता है, लेकिन शनिवार शाम तक तीनों गैंगस्टरों में किसी बात को लेकर कोई विवाद नहीं हुआ था। रविवार सुबह बंदी खुलने के बाद भी कुछ नहीं हुआ। अचानक ही उन्होंने हमला किया है। पुलिस मामले की पड़ताल कर रही है।

उधर, थाना कैंट के प्रभारी इंस्पेक्टर नरिंदर कुमार का कहना है कि  गैंगस्टर चट्ठा ने अपने बयान दर्ज नहीं करवाए हैं। पुलिस बयान लेने के लिए अस्पताल गई थी। पुलिस ने जेल सुपरिटेंडेंट की तरफ से भेजी गई शिकायत के आधार पर गैंगस्टर राहुल सूद व अजय सिंह पर विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया जाएगा। जिन्हें जल्द ही पुलिस प्रोडेक्शन वारंट पर लाकर पूछताछ की जाएगी और हमला करने की वजह का पता किया जा सकेगा।

फिलहाल हमला करने की वजह पुरानी रंजिश ही बताई जा रही है। वहीं दूसरी तरफ आशंका जताई जा रही है कि दोनों गैंगस्टरों से कई बार मोबाइल फोन बरामद हो चुके है और उन्हें शक था कि जेल के सुरक्षा कर्मियों को मोबाइल फाेन की जानकारी गैंगस्टर चट्ठा की तरफ से दी जाती थी।

------

चट्ठा गुरप्रीत सेखों व विक्की गौंडर, तो राहुल व अजस बंबीहा ग्रुप से जुड़े

जेल में बंद तीनों गैंगस्टरों पर डेढ़ दर्जन से ज्यादा संगीन मामले दर्ज है, जिसमें हत्या, लूटपाट, मारपीट, इरादा ए हत्या समेत कई अपराधिक केस है। नवदीप सिंह चट्ठा कुख्यात गैंगस्टर गुरप्रीत सिंह सेखों और विक्की गौंडर गैंग से जुड़ा रहा है। उसके खिलाफ पंजाब के अलावा हरियाणा व राजस्थान में कई केस दर्ज है। गैंगस्टर राहुल सूद और अजय कुमार बंबीहा ग्रुप के साथ जुड़ा है। उनके खिलाफ कई बड़े मामले दर्ज हैं।

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!