जासं, बठिडा : अजीत रोड पर विदेश भेजने के लिए खोले सेंटर के इंचार्ज ने अपने पार्टनर को बिना कुछ बताए उसके बैंक खाते से करीब डेढ़ लाख रुपये निकाल लिये। पुलिस की ईओ विग ने आरोपित के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

थाना सिविल लाइन पुलिस को शिकायत देकर इकबाल सिंह निवासी चंडीगढ़ ने बताया कि उसने अपने दोस्त लक्ष्मण सिंह गिल निवासी बाजाखाना, दर्शन सिंह निवासी गांव सुखनंद जिला मोगा व आकाश गुप्ता वासी विष्णु विहार नजदीक सिघावाला, अंबाला, हरियाणा के साथ मिलकर अजीत रोड गली नंबर पांच में बच्चों को विदेश भेजने के लिए टैग एजुकेशन वीजा कंसलटेट के नाम पर कंपनी शुरू की थी। इस कंपनी का इंचार्ज आकाश गुप्ता था, जोकि विदेशों में विभिन्न कंपनियों, कॉलेज व टेक्निकल एजुकेशन वीजा लगवाने का काम करता था। वहीं शिकायतकर्ता इकबाल सिंह द्वारा धन बैंक में अपना एक खाता खुलवाया था, जिसमें करीब 20.70 लाख रुपये जमा किए गए थे। ताकि विदेश भेजे जाने वाले बच्चों की फीस या अन्य खर्च के लिए केवल इसी बैंक खाते से पैसे निकाले जाएंगे। शिकायतकर्ता के मुताबिक वह चंडीगढ़ रहने के कारण उनका महीने में एक बार ही बठिडा चक्कर लगता था, इसलिए उन्होंने अपने बैंक खाते की चेक बुक पर साइन कर आरोपित आकाश गुप्ता को दे दी। इसके बाद आरोपित आकाश ने शिकायकर्ता इकबाल सिंह को बिना कुछ बताए दो चेक के जरिए खाते से करीब डेढ़ लाख रुपये निकाल लिये। पुलिस ने आरोपित आकाश गुप्ता पर केस दर्ज कर लिया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!