जागरण संवाददाता, ब¨ठडा

नरूआना रोड स्थित बीकानेर-ब¨ठडा रेलवे लाइन बाइपास पर 10 वर्षीय बच्चा रेलगाड़ी के नीचे आकर कट गया। उसका एक बाजू व एक पैर कट गया था। बच्चा लाइनों के पास गंभीर अवस्था में पड़ा था। सूचना मिलने पर सहारा जनसेवा की लाइफ से¨वग ब्रिगेड टीम के संदीप गिल व मनी शर्मा घटनास्थल पर पहुंचे। फाटक बंद होने के कारण एंबुलेंस आगे नहीं जा सकी, जिसके चलते सहारा वर्करों ने बच्चे को गोद में उठाकर एंबुलेंस तक पहुंचाया। खून से लथपथ बच्चे को अस्पताल की आपातकालीन कक्ष में दाखिल करवाया। जहां डाक्टरों ने बच्चे का उपचार कर उसको दो यूनिट रक्त लगवाया। जख्मी बच्चे की पहचान हरजीत सिंह पुत्र गुरदेव सिंह निवासी ढिल्लों बस्ती के तौर पर हुई।

पारिवारिक सूत्रों के अनुसार बच्चा शनिवार रात्रि भगवती जागरण से घर लेट आया था। बड़े भाई ने डांटा तो वह घर से भाग गया। रेलगाड़ी की चपेट में आकर हादसे का शिकार हो गया। बच्चे की स्थिति को देखते हुए उसे फरीदकोट मेडिकल कालेज रैफर कर दिया गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!