मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जेएनएन, संगरूर/बरनाला। शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष व पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने कहा है कि उनकी पार्टी कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को फांसी की सजा दिलाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में पैरवी करेगी। दिल्ली हाईकोर्ट द्वारा 1984 के सिख विरोधी दंगों में सज्जन कुमार को उम्रकैद की सजा सुनाने पर उन्होंने कहा कि परमात्मा की आज मेहर हुई है। उन्होंने कहा कि 34 वर्ष बाद गांधी परिवार के चहेते सज्जन कुमार को केवल सजा ही नहीं मिली बल्कि कांग्रेस का सिख कौम विरोधी चेहरा भी बेनकाब हो गया है।

सुखबीर ने कहा कि शिअद लगातार पीड़ित सिख परिवारों को इंसाफ दिलाने की जंग लड़ रहा है। दिल्ली हाईकोर्ट के माननीय जज ने भी अपनी जजमेंट में लिखा है कि सज्जन कुमार को अब तक राजनीतिक संरक्षण से बचाया जाता रहा है। शिअद हमेशा कहता रहा है कि कांग्रेस सिख कौम विरोधी पार्टी है जो आज साबित हो गया है। उन्होंने आरोप लगाया कि राजीव गांधी के आदेश पर सज्जन कुमार ने सिख भाइयों व बहनों का कत्ल किया है।

बरनाला में पत्रकारों से बातचीत में सुखबीर ने कहा कि 1984 में जब दिल्ली में सिख मारे जा रहे थे तब तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी अपने कुछ नजदीकी साथियों एचकेएल भगत, सज्जन कुमार, जगदीश टाइटलर के साथ उनकी कार में बैठकर खुद जायजा ले रहे थे। उन्होंने कहा कि इन सभी ने सिख कत्लेआम करवाया था और 34 साल तक कांग्रेस ने ही इन्हें बचाए रखा, लेकिन आने वाले 2-3 माह में ये सभी जेलों की सलाखों के अंदर होंगे। उन्होंने कहा कि कमलनाथ को मध्य प्रदेश का सीएम बनाने से साफ है कि गांधी परिवार की सोच क्या है।

मोदी से सजा दिलाने की मांग की थी

सुखबीर ने कहा कि सिख कत्लेआम के जितने भी केस बंद हो चुके थे हैं, उन सभी में अब फिर से फैसले आने शुरू हो गए हैं। अकाली दल ने 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलकर सिख कत्लेआम के आरोपित कांग्रेसियों को सजा दिलाने की मांग की थी। तब प्रधानमंत्री मोदी ने ही एसआइटी बनाकर सिखों के सभी केस फिर से खुलवाकर जांच के आदेश दिए थे।

बधाइयां सारेया नू...

बधाइयां सारेया नू, सज्जन कुमार नू उम्र कैद हो गई अै...। यह बात सुखबीर बादल ने बरनाला जिले के हलका बरनाला, महलकलां व भदौड़ के करीब 200 पार्टी नेताओं एवं कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने इंसाफ के लिए लड़ रही लीगल टीम को भी बधाई दी।

ताश की तरह बिख्ररेगा टकसाली गुट

नए शिरोमणि अकाली दल (टकसाली) के गठन पर सुखबीर ने कहा कि जनता के दिलों में शिअद (बादल) का ही राज है। अब तक न जाने कितने अकाली दल बने हैं। नया दल भी बाकी अकाली दलों की तरह जल्द ही ताश के पत्तों की भांति बिखर जाएगा।

एसजीपीसी की सेवा करने लायक नहीं खैहरा

सुखपाल खैहरा ग्रुप सहित अन्य द्वारा बनाए नए गठबंधन पर सुखबीर ने कहा कि जिनका अपना कोई वजूद जनता के बीच नहीं बचा है वे शिअद (ब) के विरोध में खड़े हो रहे हैैं। उन्होंने कहा कि खैहरा कहते थे कि वह एसजीपीसी को शिअद (ब) के प्रभाव से मुक्त करवाएंगे, जबकि खैहरा अपनी शक्ल-सूरत पर नजर डालें कि क्या उनका रूप एसजीपीसी की सेवा करने लायक है।

बरगाड़ी मोर्चा कांग्रेस का षडयंत्र

बरगाड़ी मोर्चा के खत्म होने संबंधी सुखबीर ने कहा कि शिअद तो पहले ही कह रहा था कि बरगाड़ी मोर्चा कांग्रेस का षडयंत्र है और अब यह साबित हो गया है। कांग्रेस ने खुद ही मोर्चा लगवाया और खुद ही उठवा दिया।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!