जागरण संवाददाता, बरनाला

भारतीय किसान यूनियन एकता उगराहां द्वारा गुलाबी सुंडी के हमले से खराब हुई फसल के मुआवजे की मांग करने वाले किसानों पर लाठीचार्ज करने की सख्त शब्दों में निदा करते हुए जिला प्रबंधकीय परिसर में धरना देकर पंजाब सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

भारतीय किसान यूनियन एकता उगराहां के जिला प्रधान चमकौर सिंह नैणेवाल, जिला महासचिव जरनैल सिंह बदरा ने कहा कि पंजाब सरकार द्वारा लंबी में अपनी बर्बाद हुई फसल का मुआवजा मांग रहे किसानों पर लाठीचार्ज किया गया। एकतरफ पंजाब सरकार नरमे की बर्बादी से पीड़ित किसानों को मानसा जिले में चेक वितरित करने का दिखावा कर रही है, दूसरी तरफ नरमे का मुआवजा मांग रहे किसानों पर लाठीचार्ज किया जा रहा है। अपना हक मांगने वाले लोगों पर लाठियां भांजना कैसे सही है। नरमे की मार को लेकर भारतीय किसान यूनियन एकता उगराहां ब्लाक लंबी द्वारा लंबी तहसील में धरना चल रहा था कितु रात को सरकार ने किसानों पर लाठीचार्ज कर दिया। जिसमें दो दर्जन के करीब किसान घायल हो गए व आधा दर्जन से अधिक किसान अस्पताल में दाखिल हैं। नेताओं ने कहा कि सरकार घायलों का मुफ्त इलाज कर बनता मुआवजा दे व लाठीचार्ज करने का आदेश देने वाले अधिकारी पर कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि यदि मांगें न मानी गई तो संघर्ष को ओर तेज किया जाएगा। इस मौके जिला उप प्रधान बुक्कण सिंह, भगत सिंह, दर्शन सिंह, कमलजीत कौर आदि उपस्थित थे।

Edited By: Jagran