संवाद सूत्र, बरनाला : गत 24 मई को लक्खी कालोनी में एक किराए के मकान में रह रहे लखवीर सिंह के घर चोरी हो गई थी। चोरी की फुटेज गली में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। पीड़ित परिवार ने चोरी की घटना की सूचना थाना सिटी-2 की पुलिस को दी। थाना सिटी-2 की पुलिस ने इस घटना की जांच करते हुए पूछताछ के लिए बुलाए 19 वर्षीय युवक शमशेर सिंह निवासी राही बस्ती बरनाला पर बिना किसी आरोप के उसकी बुरी तरह मारपीट की। जिस कारण वह गंभीर घायल हो गया। पीड़ित के परिवार के सदस्यों ने उसे सिविल अस्पताल में भर्ती करवा कर इंसाफ की मांग की है।

सिविल अस्पताल में रविवार की शाम करीब चार बजे भर्ती हुए शमशेर सिंह ने बताया कि थाना सिटी-2 के एएसआइ अवतार सिंह व गुरप्रीत सिंह ने 24 मई की शाम को उसको घर से रोटी खाते समय पूछताछ के लिए कह कर उठा कर ले गए थे। उन्होंने थाने में ले जाकर दोनों पुलिस कर्मचारियों ने उसकी डंडों, जूते व पैरों जमकर पिटाई की। परंतु वह सिर्फ चीखता हुआ यहीं कहता रहा कि उसने कोई चोरी नहीं की। उसने कहा कि उसको पुलिस ने पांच दिन तक भूख रखा, रोटी मांगने पर चोरी का सामान बरामद करवाने के लिए कहते थे। पुलिस ने पांच दिनों में उसको दो बार घर भेजा।

पीड़ित शमशेर सिंह के पिता रणजीत सिंह ने कहा कि उसके बेटे को पुलिस ने बेकसूर होते हुए भी पांच दिन हिरासत में रख कर मारपीट की है। इसकी शिकायत मानवीय अधिकार कमिशन को भी की है, जिसके उपरांत शमशेर सिंह को छोड़ा गया है। उन्होंने मांग करते हुए कहा कि उनके बेटे की बिना वजह मारपीट करने वालों के खिलाफ कार्रवाई कर उन्हें इंसाफ दिलाया जाए। शमशेर सिंह के पिता रणजीत सिंह ने कहा कि एएसआइ अवतार सिंह मारपीट के 24 घंटे के उपरांत उसको निजी अस्पताल लेकर जाने व उसका खर्च देने के लिए कहते रहे। उन्होंने कहा कि अगर ऐसा नहीं किया, तो झूठा केस दर्ज किया जाएगा। लगाए गए आरोप पूरी तरह से झूठे हैं : एसएचओ

-थाना सिटी-2 के एसएचओ हरसिमरनजीत सिंह ने कहा कि चोरी वाली कोठी के नजदीक लगे सीसीटीवी कैमरों में से शमशेर सिंह की फोटो गली में गुजरते हुए साफ दिखाई देती है, उसकी फोटो प्लाट में भी दिखती है। उन्होंने बताया कि गणमान्य व्यक्ति राजेश कायत व उसके पिता के साथ शमशेर सिंह 30 मई को भेज भी दिया गया था। उन्होंने कहा कि उन पर लगाए गए आरोप सभी झूठे व बेबुनियाद है। वहीं एएसआइ अवतार सिंह व गुरप्रीत सिंह ने भी शमशेर व उसके परिवार द्वारा लगाए आरोपों को झूठे व बेबुनियाद बताया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!