संवाद सहयोगी, बरनाला : अनाज मंडी बरनाला सहित जिले के 98 खरीद केंद्रों में धान की आमद तेज हो रही है। जिले की विभिन्न खरीद एजेंसियों में अब तक तीन लाख मीट्रिक टन धान की खरीद के साथ तीन लाख 38 हजार एमटी धान की आमद हो गई है। विगत वर्ष जिले के 98 खरीद केंद्रों में करीब 8 लाख 48 हजार मीट्रिक टन धान का आमद हुई थी, लेकिन इस बार झाड़ कम होने के कारण धान की आमद में 10 फीसद कमी का अनुमान है।

जिला मंडी बोर्ड अफसर जसपाल सिंह ने कहा कि इस बार झाड़ कम होने से किसानों को काफी नुकसान का अनुमान है व किसानों की चिता बढ़ रही है। उन्होने कहा कि विगत वर्ष की तरह इस बार 10 फीसद धान कम आएगी। उन्होंने कहा कि आमद में करीब 35 फीसद हिस्सा पहुंच चुका है व 10 नवंबर तक धान की आमद पूरी हो जाएगी। उन्होने कहा कि किसान 17 नमी वाला धान ही मंडी में लेकर आएं।

किसानों को झाड़ से कमी का नुकसान

जगसीर सिंह भाकियू लक्खोवाल के जिला प्रधान जगसीर सिंह छीनीवाल ने कहा कि धान का झाड़ कम होने से किसानों को काफी नुकसान हुआ है व इस कमी के कारण किसान चितित है। उन्होने कहा कि सरकार की किसान विरोधी नीतियों के कारण किसान घाटा में चल कर्ज नीचे दब रहे है व किसानों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। अगर किसानों का घाटा पड़ा, तो इसी जिम्मेदार सरकार है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!