संवाद सूत्र, बरनाला : पराली के धुएं से पर्यावरण के हो रहे नुकसान को लेकर जिला प्रशासन किसानों को धुएं से हो रहे नुकसान संबंधी जागरुक कर रहे हैं व पराली को आग लगाने वाले किसानों पर कानूनी कार्रवाई की जा रही है। यह बात डीसी तेज प्रताप सिंह फूलका ने जिला

प्रबंधकीय कांप्लेक्स में हुई मीटिग की अध्यक्षता करते हुए कही। डीसी फूलका ने बताया कि जिला बरनाला में पराली जलाने वाले किसानों पर 87 केस दर्ज किए गए हैं। इसके अलावा पंजाब प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड ने 732 चालान जारी किए हैं। उन्होंने बताया कि 732 केस में कुल 18 लाख 6 हजार रुपए जुर्माना किया गया है। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार के आदेशानुसार पराली नहीं जलाने वाले छोटे किसानों को मुआवजा देने के लिए प्रक्रिया शुरु हो गई है व एसडीएम को प्राप्त पत्र की पड़ताल कर पोर्टल पर अपलोड करने के निर्देश जारी किए हैं। उन्होंने किसानों को अपील की कि वह पराली को आग ना लगाएं व पर्यावरण को साफ व शुद्ध रखने के लिए सहयोग करें।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!